Jul ०१, २०२२ १०:१४ Asia/Kolkata
  • सीरिया संकट, ईरान ने अपना नज़रिया बता दिया, किस तरह से होगी सीरिया में शांति

इस्लामी गणतंत्र ईरान ने एक बार फिर कहा है कि सीरिया संकट का कोई सैन्य हल नहीं है।

संयुक्त राष्ट्र संघ में तैनात ईरान के स्थाई राजदूत मजीद तख़्त रवान्ची ने सीरिया की राजनैतिक स्थिति के बारे में संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद की मासिक बैठक के अवसर पर कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान ने बारम्बार इस बात पर बल दिया है कि सीरिया संकट का कोई सैन्य हल नहीं है, इस संकट का हल शांतिपूर्ण मार्गों, अंतर्राष्ट्रीय अधिकारों का सम्मान और सीरिया की राजनैतिक स्वाधीनता और अखंडता की रक्षा व सम्मान के साथ होगा।

ईरानी प्रतिनिधि ने कहा कि इस संबंध में सीरिया पर विदेशी शक्तियों के नियंत्रण को ख़त्म करने और सीरिया का पुनर्निमाण इस अभियान की प्राप्ति की आरंभिक आवश्यकताएं हैं।  

श्री मजीद तख़्त रवान्ची ने कहा कि सीरिया के कुछ क्षेत्रों पर क़ब्ज़ा, इस्राईल के हमले और आतंकी हमलों से सीरिया की राजनैतिक स्वाधीनता और अखंडता का निरंतर उल्लंघन हो रहा है।

संयुक्त राष्ट्र संघ में तैनात ईरान के स्थाई राजदूत ने राजनैतिक स्तर पर सीरिया संकट के हल में देश की संविधान निर्माण करने वाली कमेटी की भूमिका पर बल देते हुए जेनेवा में सीरियाई संविधान निर्माण की कमेटी के आठवीं बैठक के आयोजन में सुविधाएं देने पर सीरिया के मामले में संयुक्त राष्ट्र संघ के विशेष प्रतिनिधि के प्रयासों की सराहना की।

उन्होंने कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान निरंतर अपने दृष्टिकोण पर बल देता है कि कमेटी को अपने नियमों पर पूरी तरह अमल करते हुए तथा विदेशी दबाव व हस्तक्षेप, झूठी डेड लाइन या इसी प्रकार की किसी दूसरी शर्तों के बिना काम करना होगा।  

मजीद तख़्तरवान्ची ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ की भूमिका केवल इस कार्य को आसान बनाने तक सीमित रखना होगा और यह प्रक्रिया, सीरिया सरकार और जनता के नेतृत्व में ही अंजाम पाना चाहिए।

संयुक्त राष्ट्र संघ में तैनात ईरान के स्थाई राजदूत ने इस बात पर बल दिया कि इस्लामी गणतंत्र ईरान, बाहर के देशों की ओर से सीरिया में मानवीय सहायताएं भेजे जाने का समर्थन करता है, इस शर्त के साथ कि इस देश की राजनैतिक स्वाधीनता और अखंडता का ख़याल और सम्मान किया जाए और साथ ही सीरिया सरकार की क़ानूनी चिंताओं को दृष्टिगत रखा जाए। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स