Aug ०९, २०२२ १२:३८ Asia/Kolkata
  • अपनी ऊर्जा ज़रूरतें पूरी करने के लिए 30 नए परमाणु संयंत्र बनाएगा ईरान

ईरान ने वियेना में परमाणु वार्ता के अवसर पर एलान किया है कि वह कुछ ही हफ़्तों में नए परमाणु संयंत्रों के निर्माण की प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है जिसके तहत कुल 30 परमाणु संयंत्रों का निर्माण किया जाएगा।

ईरान वर्ष 2040 तक 30 नए परमाणु संयंत्रों का निर्माण पूरा करेगा।

ईरान की परमाणु ऊर्जा संस्था के प्रमुख मुहम्मद इस्लामी ने बताया किहम परमाणु ऊर्जा से 10 हज़ार मेगावाट बिजली तैयार करना चाहते हैं और परमाणु बिजली के उत्पादन में वृद्धि ईरान की परमाणु रणनीति का मुख्य बिंदु है।

देश में जैसे जैसे विकास की प्रक्रिया आगे बढ़ रही है ऊर्जा की ज़रूरत और खपत भी बढ़ती जा रही है इसलिए बिजली का उत्पादन बढ़ाना ज़रूरी हो गया है।

ईरान ने वर्ष 2013 में पहली बार परमाणु बिजली का उत्पादन किया था जिसके एक साल बाद परमाणु बिजली की सप्लाई शुरू कर दी गई। इसके बाद से परमाणु बिजली का उत्पादन लगातार बढ़ता जा रहा है।

ईरान लगभग 1025 मेगावाट बिजली बूशहर परमाणु बिजलीघर में बना रहा है। इसके अलावा ईरान 2000 मेगावाट बिजली का उत्पादन करता है। इस तरह 3 हज़ार मेगावाट से अधिक बिजली का उत्पादन किया जा रहा है। इसी को बढ़ाते हुए 10 हज़ार मेगावाट तक पहुंचाना है।

ईरान अलग अलग क्षमताओं के परमाणु बिजलीघर अलग अलग जगहों पर बनाने की योजना रखता है। परमाणु ऊर्जा के राष्ट्रीय दिवस पर राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने एलान किया था कि दार ख्वैन में 360 मेगावाट की क्षमता का परमाणु बिजलीघर बनाया जाएगा।

तेल और गैस भंडारों से मालामाल देश ईरान भविष्य की ज़रूरतों को देखते हुए परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में बड़ी मेहनत से काम कर रहा है और सराहनीय रूप से उसे कामयाबी मिली है।

 हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स