Aug १०, २०२२ १७:५३ Asia/Kolkata
  • ईरान के परमाणु समझौते में पश्चिम की वापसी की संभावनाओं से सहमा हुआ है इस्राईल

इस्राईली मीडिया का कहना है कि इस्राईल के अधिकारी इस बात से डरे हुए हैं कि अगर पश्चिमी देश ईरान के परमाणु समझौते में वापसी कर लेते हैं यह इस्राईल के लिए बड़ी चिंता की बात होगी।

यूरोपीय संघ के विदेश नीति प्रभारी जोज़ेप बोरेल ने हाल ही में कहा है कि समझौते का अंतिम मसौदा तैयार हो गया है। इस एलान के बाद इस्राईली अधिकारियों की चिंता बढ़ गई है। अमरीका में डेमोक्रेटिक पार्टी की सरकार के ज़माने में परमाणु समझौता हुआ था और वर्तमान राष्ट्रपति जो बाइडन इस समझौते के समर्थक माने जाते हैं।

इस बीच इस्राईली अधिकारी यह भी कह रहे हैं कि परमाणु समझौता बहाल होने की संभावना कम है। अधिकारियों ने इस्राईली मीडिया से बातचीत में कहा कि अंतिम मसौदा तैयार हो जाने की बातें तो हो रही हैं लेकिन सच्चाई यह है कि समझौते पर हस्ताक्षर होने की संभावना कम है।

इस्राईली अधिकारी यह बयान भी दे रहे हैं कि अगर पश्चिमी देशों ने ईरान से समझौता कर लिया तो इस्राईल तत्काल इस समझौते को ख़ारिज नहीं करेगा बल्कि इस बारे में बातचीत करेगा।

टीकाकार कहते हैं कि इस्राईल के लिए चिंता की यही बात है कि वह परमाणु समझौते के बारे में जो सोच रखता है पश्चिमी देश यहां तक कि इस्राईल के क़रीबी घटक भी उस सोच से सहमत नहीं हैं यानी इस मसले में इस्राईल अलग थगल पड़ा हुआ है। इसी लिए इस्राईल चाहता है कि परमाणु समझौता हो जाने की स्थिति में वह तत्काल इस समझौते को ख़ारिज न करे।

इस्राईल के एक अधिकारी ने मीडिया को इतमीनान दिलाने की कोशिश की कि ईरान ख़ुद भी परमाणु समझौते की बहाली नहीं चाहता।

 हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स