Aug १८, २०२२ ०९:५७ Asia/Kolkata
  • वियेना वार्ता के मुद्दे पर ईरान की संसद में बंद दरवाज़ों के पीछे महत्वपूर्ण बैठक, ईरान का प्रस्ताव अमरीका ने माना तो समझौता क़रीब है

अमरीका के साथ यूरोपीय संघ के माध्यम से जारी ईरान की वार्ता के बीच ईरान की संसद में बंद दरवाज़ों के पीछे बड़ी महत्वपूर्ण बैठक हुई जिसके संसद के राष्ट्रीय सुरक्षा आयोग के प्रवक्ता अबुल फ़ज़्ल अमूई ने कहा कि अगर दूसरे पक्ष ने हमारा प्रस्ताव मान लिया तो इसका मतलब होगा कि हम समझौते के क़रीब पहुंच गए।

अबुल फ़ज़्ल अमूई ने बताया कि बैठक में सर्वोच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव अली शमख़ानी, विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियान और मुख्य परमाणु वार्ताकार अली बाक़ेरी तथा परमाणु ऊर्जा संस्था के प्रमुख मुहम्मद इस्लामी और प्रवक्ता बेहरूज़ कमालवंदी मौजूद थे।

उन्होंने कहा कि हम अभी एक संपूर्ण समझौते तक तो नहीं पहुंचे हैं लेकिन उसी राह पर आगे बढ़ रहे हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि वार्ता में राष्ट्रीय हितों और ईरान के आर्थिक मुद्दों को विशेष रूप से चर्चा का केन्द्र बनाया गया। उनका कहना था कि यह ज़रूरी है कि समझौते के नतीजे में ईरान का तेल बिना किसी रुकावट के बिके और उससे प्राप्त होने वाली आय भी बग़ैर किसी रुकावट के ईरान के पहुंच में हो। अबुल फ़ज़्ल अमूई ने कहा कि यह शर्तें पूरी होती हैं तो हम 2015 के परमाणु समझौते को पुनः पूरी तरह लागू कर देंगे।

उन्होंने कहा कि हमारी सबसे महत्वपूर्ण मांग यह है कि पाबंदियां हटें। प्रवक्ता ने कहा कि सांसदों ने इस बैठक में गैरेंटियों के बारे में बात की जिस पर मेहमानों ने परिस्थितियों को विस्तार से बयान किया।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स