Sep २२, २०२२ ०७:४६ Asia/Kolkata
  • जनरल सुलैमानी की तस्वीर ने महासभा में मचाया हंगामा, ईरान ने अमरीका को दिखाया आईना

इस्लामी गणतंत्र ईरान के राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने संयुक्त राष्ट्र संघ की महासभा के वार्षिक अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा कि ईरान, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर न्याय को पूर्ण रूप से लागू किए जाने का समर्थन करता है।

राष्ट्रपति सैयद इब्राहीम रईसी ने जनरल एसेंबली में अपने संबोधन के दजरान कहा कि अमरीका की हस्तक्षेपूर्ण और ज़ोर ज़बरदस्ती की नीतियों के मुक़ाबले में ईरान ने भरपूर प्रतिरोध का प्रदर्शन किया है।

उन्होंने भाषण के दौरान शहीद जनरल क़ासिम सुलैमानी के फ़ोटो को दिखाते हुए कहा कि दुनिया के दूसरे कोने में बसने वाली एक सरकार ने क्षेत्र की भौगोलिक स्थिति को बदलने की योजना बनाई थी जिसे जनरल शहीद क़ासिम सलैमानी की कमान में ईरानी जवानों ने नाकाम बना दिया।

उन्होंने कहा कि जनरल क़ासिम सुलैमानी को शहीद करने की पूर्व राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की अपराधिक कार्यवाही को न्यापूर्ण अदालती व्यवस्था में उठाकर दोषियों को सज़ा दिलाने की कोशिश जारी रखेंगे।

राष्ट्रपति रईसी ने कहा कि ईरान अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर न्याय और इंसाफ़ की स्थापना का समर्थन करता है क्योंकि इंसाफ़ से एकता बनती है और अत्याचार से जंग की आग भड़कती है।

इस्लामी गणतंत्र ईरान के राष्ट्रपति ने अमरीकी नीतियों की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि अमरीका नहीं चाहता कि दूसरे देश भी अपने पैरों पर खड़े हों।

उन्होंने कहा कि ईरान दुनिया के सभी देशों विशेषकर अपने दोस्त और पड़ोसी देशों के साथ ज़यादा से ज़्यादा सहयोग करना चाहता है क्योंकि वह समझता है कि जंग किसी भी मामले का समाधान नहीं है।

राष्ट्रपति सैयद रईसी ने फ़िलिस्तीन की स्थिति का उल्लेख करते हुए कहा कि वर्तमान इतिहास ने फ़िलिस्तीनियों से ज़्यादा मज़लूम राष्ट्र और ज़ायोनी शासन से ज़्यादा अत्याचारी सरकार कहीं नहीं देखा है।

राष्ट्रपति इब्राहीम रईसी ने कहा कि तेहरान परमाणु समझौते को पुनर्जीवित करने के लिए गंभीर है।

उन्होंने सवाल किया कि क्या किसी समझौते तक पहुंचने के लिए अमरीका की प्रतिबद्धता पर भरोसा किया जा सकता है?

इस्लामी गणतंत्र ईरान के राष्ट्रपति सैयद रईसी ने कहा कि हमारी एक ही इच्छा है कि प्रतिबद्धाताओं का पालन किया जाए। उन्होंने रेखांकित किया कि समझौते से अमेरिका अलग हुआ था न कि ईरान। उन्होंने सवाल किया कि क्या ईरान बिना गैरेंटी और आश्वासनों के इस बात पर भरोसा कर सकता है कि अमेरिका इस बार अपनी प्रतिबद्धाताओं को पूरा करेगा? (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करे

टैग्स