Oct ०१, २०२२ १०:१२ Asia/Kolkata
  • ज़ाहेदान में आतंकियों के हमले में आईआरजीसी के कमांडर और उप कमांडर शहीद

ईरान के सीस्तान-बलूचिस्तान प्रांत के पासदाराने इंकेलाबे इस्लामी आईआरजीसी के ख़ुफ़िया विभाग के कमांडर अली मूसवी और उप कमांडर सैयद हमीद रज़ा हाशमी को आतंकवादियों ने गोली मारकर शहीद कर दिया है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, शुक्रवार 30 सितंबर को ईरान के सीस्तान-बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी ज़ाहेदान में एक थाने पर आतंकियों ने हमला बोल दिया था जिसमें कई सुरक्षाकर्मियों के शहीद और घायल होने की सूचना है। इस बीच आतंकियों ने ज़ाहेदान की प्रसिद्ध मक्की मस्जिद के पास भी फ़ायरिंग करना शुरू कर दिया। जिसके बाद सुरक्षा बल आतंकियों को मुक़ाबला करने के लिए मस्जिद की ओर गए, जहां आतंकियों द्वारा अंधाधुंध की जाने वाली गोलीबारी में सीस्तान-बलूचिस्तान प्रांत के आईआरजीसी के ख़ुफ़िया कमांडर अली मूसवी और उप कमांडर सैयद हमीद रज़ा हाशमी को गोली लग गई, जिसके बाद उन्हें क़रीब के एक अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों के काफ़ी प्रयास के बाद भी उन्हें नहीं बचाया जा सका और वे देश की शांति व स्थिरता की रक्षा करते हुए शहीद हो गए।

ज़ाहेदान में आतंकियों के हमले  में शहीद होने वाले देश के रक्षक

इस बीच सीस्तान-बलूचिस्तान प्रांत के गवर्नर हुसैन मुदर्रिस ख़ियाबानी एक बयान जारी करके बताया है कि शुक्रवार को ज़ाहेदान थाने पर हुए आतंकवादी हमले में पुलिसकर्मियों समेत 19 लोग मारे गए और 20 अन्य घायल हुए हैं। उन्होंने बताया कि आतंकवादियों और चरमपंथियों ने पहले थाने पर पथराव करके हमला शुरू किया और फिर थाने पर अंधाधुंध गोलिया बरसाने लगे। साथ ही आतंकवादियों ने ज़ाहेदान शहर में एक फ़ायर ब्रिगेड की गाड़ी, एक अग्निशमन सेवा कार्यालय, एक बैंक और कई अन्य स्थानों पर हमला करने का प्रयास किया। लेकिन सुरक्षा बलों द्वारा समय पर की गई कार्यवाही के कारण उन हमलों को नाकाम बना दिया गया। इस बीच ईरान की इस्लामी क्रांति विरोधी आतंकवादी गुट जैश अलज़ुल्म ने शुक्रवार को ज़ाहेदान में हुए हमले की ज़िम्मेदारी स्वीकार की है। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें 

टैग्स