Oct १२, २०१९ १६:५२ Asia/Kolkata
  • तेल टैंकर पर हमला करने वाले यक़ीन रखें कि उन्हें इन्तेक़ामी कार्यवाही का समाना करना पड़ेगाः अली शमख़ानी

लाल सागर में ईरानी तेल टैंकर पर हुए हमले के संदर्भ में ईरान की राष्ट्रीय सुरक्षा की उच्च परिषद के सचिव ने कहा है कि अन्तर्राष्ट्रीय जलक्षेत्र में किसी भी प्रकार की शरारत या उकसावे की कार्यवाही का जवाब अवश्य दिया जाएगा।

अली शमख़ानी का कहना है कि अन्तर्राष्ट्रीय जलमार्ग में उकसाने वाली कार्यवाही का जवाब ज़रूर दिया जाएगा।  उन्होंने कहा कि इस प्रकार के काम का उद्देश्य, अन्तर्राष्ट्रीय जलमार्ग को व्यापारिक जहाज़ों के लिए अशांत बनाना है।ईरान की राष्ट्रीय सुरक्षा की उच्च परिषद के सचिव ने कहा है कि इस घटना की जांच से इस ख़तरनाक घटना के मुख्य स्रोत का पता चला है।  उन्होंने यह भी कहा कि इस घटना की गहन जांच के लिए एक विशेष समिति का गठन किया गया है जिसकी रिपोर्ट जल्द ही न्यायिक अधिकारियों के हवाले कर दी जाएगी।अली शमख़ानी ने पिछले कुछ महीनों के दौरान लाल सागर में ईरान के टैंकरों पर किये गए हमलों की ओर संकेत करते हुए कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय जलमार्ग को अशांत बनाने से वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए गंभीर ख़तरे पैदा होंगे।  उन्होंने कहा कि इस उकसावे वाली कार्यवाही के दुष्परिणाम भुगतने के लिए इसकी योजना बनाने वालों, उसे व्यवाहरिक बनाने वालों और उसका संरक्षण करने वालों को तैयार रहना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार की सुबह लाल सागर के पूर्वी भाग में ईरानी तेल टैंकर को हमले का निशाना बनाया गया जिससे इस तेल टैंकर को नुक़सान पहुंचा।  

टैग्स

कमेंट्स