Oct २०, २०१९ ००:०७ Asia/Kolkata
  • ज़ायोनी और सऊदी अधिकारी अमरीका के कट्टरपंथियों के साथ मिलकर ईरान की जनता पर दबाव बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं,

इस्लामी गणतंत्र ईरान के राष्ट्रपति डाक्टर हसन रूहानी ने कहा कि महान ईरानी राष्ट्र ने बीते वर्षों के दौरान अपनी गरिमा और प्रतिष्ठा की बहुत कामयाबी के साथ रक्षा की है और आज हमारे पास दुशमन की साज़िशों और दबाव के मुक़ाबले में डटे रहने के अलावा कोई रास्ता नहीं है।

राष्ट्रपति रूहानी ने शनिवार की शाम आठ वर्षीय युद्ध में घायल होकर शारीरिक रूप से असमर्थ हो जाने वाले एक सैनिक से मुलाक़ात में कहा कि शहीदों और युद्ध में भाग लेने वाले सभी संघर्षकर्ताओं का ईरान की सफलताओं में बहुत बड़ा हिस्सा है। डाक्टर रूहानी ने कहा कि आज दुशमनों की ओर से ईरानी राष्ट्र के ख़िलाफ़ नई साज़िश रची गई है लेकिन खुशी की बात यह है कि जनता को दुशमन की साज़िशों और हालात की सही जानकारी है जिसके आधार पर लोगों ने शानदार प्रतिरोध किया जबकि इस बीच सरकार की ज़िम्मेदारी यह है कि जनता के जीवन को बेहतर और सुविधापूर्ण बनाने की हर संभव कोशिश करे।

राष्ट्रपति रूहानी ने कहा कि जो लोग वर्षों से ईरान की दुशमनी दिल में रखते थे आज अमरीका में सरकार चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि अमरीकी सरकार ईरानी राष्ट्र के दुशमनों के दबाव में उस परमाणु समझौते से निकल गई जिसे संयुक्त राष्ट्र से भी स्वीकृति मिली थी और उसने ईरान की जनता पर प्रतिबंध लगाए।

राष्ट्रपति रूहानी ने कहा कि ज़ायोनी और सऊदी अधिकारी अमरीका के कट्टरपंथियों के साथ मिलकर ईरान की जनता पर दबाव बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं, इन हालात में हमारे पास दृढ़ता से उनका मुक़ाबला करने के अलावा कोई रास्ता नहीं है।

 

टैग्स

कमेंट्स