Nov ११, २०१९ ०१:१६ Asia/Kolkata
  • दो मित्र देशों ने प्रतिबंधों को किया बाय बाय, आर्थिक संबंधों में विस्तार पर बल

ईरान की संसद मजलिसे शूराए इस्लामी में राष्ट्रीय सुरक्षा और विदेश नीति आयोग के प्रमुख ने कहा है कि इस्लामी गणतंत्र ईरान ने हमेशा से ही भारत के साथ हर क्षेत्र में संबंधों में विस्तार पर बल दिया है।

ईरान की संसद मजलिसे शूराए इस्लामी में राष्ट्रीय सुरक्षा और विदेश नीति आयोग के प्रमुख मुजतबा ज़ुन्नूरी ने रविवार को तेहरान में भारतीय राजदूत गड्डम धर्मेंद से मुलाक़ात में दोनों देशों के व्यापारिक और आर्थिक लेनदेन के स्तर की ओर संकेत करते हुए कहा कि क्षेत्र में अमरीका के संकट फैलाने और ईरान के विरुद्ध नये अत्याचारपूर्ण प्रतिबंधों के लागू किए जाने के बावजूद दोनों देशों ने सूक्ष्म कार्यक्रम बनाकर अपने आर्थिक संबंधों को मज़बूत किया है।

श्री ज़िन्नूरी ने इसी प्रकार क्षेत्र में मौजूद तनाव को समस्त क्षेत्रीय देशों के लिए नुक़सानदेह क़रार दिया और कहा कि क्षेत्र में मुसलमानों के अधिकारों का सम्मान करते हुए कश्मीर में मुसलमानों की स्थिति का जाएज़ा लिया जाए।

इस मुलाक़ात में तेहरान में भारतीय राजदूत ने कहा कि ईरान के साथ बहुपक्षीय संबंधों में विस्तार, भारत की विदेश नीति में बहुत अधिक महत्व रखता है।

भारत के राजदूत ने आशा व्यक्त की है कि दोनों देशों के अधिकारियों के बीच वार्ताओं और लेनदेन से द्विपक्षीय संबंधों में विस्तार के मार्ग में महत्वपूर्ण क़दम उठाए जा सकते हैं। (AK)

टैग्स

कमेंट्स