Dec ०८, २०१९ ०८:२७ Asia/Kolkata
  • अमरीकी जेल से रिहा हुए ईरानी वैज्ञानिक वतन पहुंचे, जानना चाहेंगे अमरीकी अधिकारियों ने क्यों उन्हें जेल में क़ैद रखा

अमरीकी जेल से रिहा हुए ईरानी वैज्ञानिक वतन पहुंचे।

ईरानी वैज्ञानिक मसऊद सुलैमानी अमरीकी जेल से रिहा होने के बाद शनिवार की रात को तेहरान के मेहराबाद हवाई अड्डे पहुंचे।

संवाददाता के मुताबिक़, विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद ज़रीफ़ के स्वीज़रलैंड के ज़्यूरिख़ शहर का दौरा करने से मसऊद सुलैमानी, अमरीका में एक साल तक ग़ैर क़ानूनी तरीक़े से जेल में क़ैद व बंधक रखे जाने के बाद, आज़ाद हुए और ईरानी अधिकारियों के हवाले किए गए।

विदेश मंत्रालय उनकी रिहाई के लिए लगातार कोशिश करता रहा। इस काम में ईरान की सुरक्षा व न्यायिक संस्थाओं ने भी मदद की। स्वीज़रलैंड की सरकार से कूटनैतिक सहयोग की प्रक्रिया के तहत ईरानी वैज्ञानिक समऊद सुलैमानी रिहा हुए। उन्हें अमरीका ने ग़ैर क़ानूनी पाबंदियों की अवज्ञा के झूठे इल्ज़ाम में 1 साल क़ैद रखा।

ग़ौरतबल है कि डॉक्टर सुलैमानी स्टेम सेल के क्षेत्र में एक जानी मानी हस्ती हैं। वह दुनिया के 1 फ़ीसद प्रतिष्ठित वैज्ञानिकों में गिने जाते हैं। वे अध्ययन का एक अवसर मिलने पर अमरीका गए थे।  उन्हें अमरीकी अधिकारियों ने ईरान लौटने या जेल में रहने के बजाए अमरीका में रहने का बारंबार प्रस्ताव दिया जिसे उन्होंने अस्वीकार किया। इस वतनपरस्त वैज्ञानिक ने अमरीकी प्रस्ताव पर वतन को प्राथमिकता। (MAQ/N)

 

टैग्स

कमेंट्स