Dec १४, २०१९ ०६:५८ Asia/Kolkata
  • ईरानी जवानों के प्रयास ने देश को बड़े देशों की सूची में शामिल कर दिया

आईआरजीसी की एरोस्पेस फ़ोर्स के कमान्डर ने कहा है कि इस समय विभिन्न प्रकार की आधुनिक तकनीक ईरानी राष्ट्र के जवानों की बनाई हुई है और स्वदेश निर्मित तकनीकों ने ईरान को दुनिया के बड़े देशों की सूची में शामिल कर दिया है।

तेहरान में ख़ातमुल अंबिया एयर डिफ़ेंस के अधिकारियों और कमान्डरों की बैठक को संबोधित करते हुए ब्रिगेडियर जनरल अमीर अली हाजीज़ादे ने कहा कि यदि ख़ातमुल अंबिया एयर डिफ़ेंस की 30 वर्षीय कोशिशें और कार्यवाहियां न होती तो आज हमें उद्योग, खनिज, ऊर्जा और अर्थव्यवस्था सहित विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक प्रतिबंधों का सामना करना होता किन्तु इस संस्था की कोशिशों के परिणाम में इस समय बहुत से अत्याचारपूर्ण प्रतिबंध न केवल विफल हो गये बल्कि आंतरिक क्षमताओं के विस्तार के अवसर में परिवर्तित हो गये हैं।

जनरल हाजीज़ादे ने कहा कि साइंस और टेक्नालाजी की अद्वितीय क्षमताओं और क्रांतिकारी जवानों के संकल्प के सहारे,समस्याएं दूर हुईं और आगे बढ़ने का रास्ता प्रशस्त हो गया और एक ऐसा आदर्श है जो दूसरे मैदानों में भी आदर्श बन सकता है।

आईआरजीसी की एरोस्पेस फ़ोर्स के कमान्डर ने कहा है कि पवित्र प्रतिरक्षा के काल की क्रांतिकारी और जेहादी प्रेरणा द्वारा अन्य मैदानों में भी सफलताएं अर्जित की जा सकती हैं। (AK)

कमेंट्स