Feb २३, २०२० १३:१६ Asia/Kolkata
  • चुनावों में जनता की भागीदारी सराहनीय, दुश्मनों के षड्यंत्रों के मुक़ाबले में डट जाएंः वरिष्ठ नेता

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने चुनाव जैसी बड़ी परीक्षाओं में ईरानी राष्ट्र की अद्वितीय भागीदार और दुश्मनों के षड्यंत्रों, कार्यवाहियों और प्रोपेगैंडों को विफल बनाने पर जनता की सराहना करते हुए बल दिया कि देश की इकाइयों को नुक़सान पहुंचाने के लिए दुश्मनों के षड्यंत्रों को विफल बनाने हेतु सबको होशियार और तैयार रहना चाहिए।

वरिष्ठ नेता ने रविवार की सुबह अपने विशेष बयान में ईरानी जनता को चुनावों में भाग न लेने के बारे में दुश्मनों के कुछ महीनों से जारी प्रोपेगैंडों की ओर संकेत करते हुए कहा कि इस प्रकार के प्रोपेगैंडे पिछले कुछ महीनों से शुरु हुए जो चुनाव के निकट होते ही बढ़ गये और आख़िरी दो दिन में तो कोरोना वायरस को बहाना बनाकर दुश्मनों के मीडिया ने जनता को चुनावों से दूर रखने का भरपूर प्रयास किया।

वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने दुश्मनों के प्रोपेगैंडेों के बावजूद चुनावों में जनता की भरपूर भागीदारी पर ईश्वर का आभार व्यक्त किया और जनता की सराहना करते हुए कहा कि अल्लाह ने ईरानी जनता को सफल बनाने का इरादा कर लिया है।

वरिष्ठ नेता ने कहा कि ईरानी राष्ट्र से दुश्मनों की दुश्मनी केवल आर्थिक, सांस्कृतिक, धार्मिक और क्रांति के मामलों से हनीं बल्कि वह तो ईरानी राष्ट्र के चुनावों के भी विरोधी हैं इसीलिए वह नहीं चाहते कि जनता क्रांति की सेवा करते हुए धर्म के नाम पर वोट डाले और यह एक सच्चाई के रूप में पंजीकृत हो जाए।

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता ने इस्लामी व्यवस्था में चुनावों के आयोजन को धार्मिक स्वतंत्रता और लोकतंत्र पर आधारित दुश्मनों के प्रोपेगैंडों की विफलता क़रार दिया और कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान में चुनाव के आयोजन से सिद्ध हो गया कि धर्म लोकतंत्र का परिपूर्ण नमूना और प्रतीक है और पिछले 41 वर्षों के दौरान ईरान में आयोजित होने वाले 37 चुनावों से अच्छी तरह स्पष्ट होता है कि इस्लामी व्यवस्था में जनता की राय का कितना महत्व है। 

वरिष्ठ नेता ने दुश्मनों की पहचान और दुश्मनों के मुक़ाबले में समझदारी से काम लेने पर बल दिया और कहा कि दुश्मनों की गतिविधियों के मुक़ाबले में ईरानी राष्ट्र के मोर्चे में लाखों लोगों को प्राचारिक और अनेक प्रकार के कामों में व्यस्त होना चाहिए। (AK)

टैग्स

कमेंट्स