Apr ०१, २०२० २३:०१ Asia/Kolkata
  • ईरान, कोरोना टेस्ट किट्स बनाने में आत्मनिर्भर, दूसरे देशों को निर्यात के लिए भी तैयार

ईरान के पास्तूर इंस्टीट्यूट के प्रमुख ने कहा है कि ईरान कोरोना टेस्ट किट्स के उत्पादन के क्षेत्र में अपने पैरों पर खड़ा हो चुका है और अन्य देशों को भी निर्यात करने के लिए तैयार है।

ईरान के पास्तूर इंस्टीट्यूट के प्रमुख अली रज़ा बेल्गरी ने बुधवार को वीडियो कांफ़्रेंसिंग द्वारा एक प्रेस कांफ़्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि ईरान में कोरोना के टेस्ट के लिए तैयार होने वाली किट्स में कोरोना वायरस के मामूली और हल्के सभी चिन्हों से संपन्न संदिग्ध लोगों की जांच की क्षमता पायी जाती है और यह कोरोना का मॉलीक्यूलर टेस्ट किट है जिसकी विश्व स्वास्थ्य संगइन डब्ल्यूएचओ ने ही पुष्टि की है और अगर सही ढंग से टेस्ट किया जाए तो इसके परिणाम पर 90 प्रतिशत तक विश्वास किया जा सकता है।

श्री बेल्गरी ने ईरान में पांच नॉलेज बेस्ड कंपनियों द्वारा कोरोना वारसस के मॉलीक्यूलर टेस्ट किट्स के उत्पादन की ओर संकेत करते हुए कहा कि यह असाधरण सफलता ऐसी स्ति में हासिल हुई है कि जब ईरान बहुत ही भीषण प्रतिबंधों के दौर से गुज़र रहा है और दूसरे देशों से किट्स की ख़रीदारी के लिए बैंकिंग ट्रांज़ेक्शन भी नहीं कर पा रहा है।

पास्तूर इंस्टीट्यूट के प्रमुख अली रज़ा बेल्गरी ने इस बात का उल्लेख करते हुए कि देश में कोरोना वायरस के टेस्ट की लेबार्ट्रीज़ की संख्या 90 तक पहुंच गयी है, कहा कि ईरान का स्वास्थ्य मंत्रालय हर दिन 20 हज़ार टेस्ट अंजाम दे सकता है और प्रतिबंधों के काल में यह क्षमता हासिल कर लेना देश का एक महत्वपूर्ण पहलू है। (AK)

टैग्स

कमेंट्स