Apr ०५, २०२० ०९:५७ Asia/Kolkata
  • सोरेना सत्तारी
    सोरेना सत्तारी

तेहरान ने नए आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेन्स साफ़्टवेयर का अनावरण किया है जो कोरोना वायरस को तत्काल डिटेक्ट कर लेता है। इस साफ़्टवेयर का अनावरण तेहरान में शनिवार को अधिकारियों ने किया।

यह साफ़्टवेयर कई ईरानी युनिवर्स्टियों की एक संयुक्त टीम ने एक महीने की मेहनत से तैयार किया है।

यह साफ़्टवेयर कोरोना वायरस से संक्रमित फेफड़ों के कम्प्युटेड टोमोग्राफ़ी स्कैन को एनलाइज़ करता है और डाक्टरों के लिए स्पष्ट तसवीरें तैयार कर देता है जिससे वह तत्काल जांच की रिपोर्ट हासिल कर लेते हैं।

साइंस व तकनीक मामलों के उप राष्ट्रपति डाक्टर सोरेना सत्तारी ने पत्रकारों को बताया कि इस साफ़्टवेयर की मदद से अब तत्काल रिपोर्ट तैयार हो जाएगी और बीमार का इलाज फ़ौरन शुरू किया जा सकेगा।

सीटी इमेज या कम्प्युटेड टोमोग्राफ़िक तसवीरें देखकर डाक्टरों को यह पता चल जात है कि कोरोना वायरस से बीमार के फेफड़ों में क्या समस्या उत्पन्न हुई है। दूसरे देशों में पीसीआर मेथड प्रयोग होता है।

अमरीका की ओर से लगाए गए प्रतिबंधों के कारण ईरान मेडिकल उपकरण दूसरे देशों से ख़रीद नहीं पा रहा है तो ईरानी वैज्ञानिकों ने यह नया कारनामा अंजाम दिया है।

सीटी स्कैन की बाती की जाए तो वह पीसीआर से अधिक भरोसेमंद है। एक महीना पहले एक चीनी रिसर्च पेपर प्रकाशित हुआ जिसमें ज़ोर दिया गया कि कोरोना वायरस के संक्रमण के टेस्ट के लिए सीटी सकैन सबसे प्रभावी तरीक़ा है।

टैग्स

कमेंट्स