Jun ०५, २०२० २०:५६ Asia/Kolkata
  • क्या ईरान और अमरीका एक दूसरे से निकट हो रहे हैं, कैदियों के आदान प्रदान के बाद अफ़वाहों का बाज़ार गर्म है?

इस्लामी गणतंत्र ईरान की सर्वोच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचवि ने कहा है कि ईरान और अमरीका के बीच क़ैदियों का आदान प्रदान, वार्ता का परिणाम नहीं है और भविष्य में भी कोई वार्ता नहीं होगी।

अली शमख़ानी ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प की हालात, चाहे वह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हो, या कोरोना के नियंत्रण में कुप्रबंधन या अमरीका के भीतर नस्लभेद की आग भड़काने में, इतनी ज़्यादा ख़राब हो गयी है कि उनकी टीम के पास, उनके लिए उपलब्धियां गढ़ने और उनकी सफलताओं का ढिंढोरा पीटने के अलावा कोई रास्ता नहीं है।

इस्लामी गणतंत्र ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद ज़रीफ़ ने अपने ट्वीटर संदेश में अमेरिकी जेल से डॉक्टर मजीद ताहिरी की रिहाई की ओर इशारा करते हुए कहा है कि यह काम सभी क़ैदियों के साथ हो सकता है।

ईरान के विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिका में या उसके दबाव में दूसरे देशों में गिरफ़्तार किए गए सभी ईरानी क़ैदियों को उनके वतन वापस लौटाया जाए। बता दें कि डॉक्टर मजीद ताहिरी को अमेरिकी सरकार ने ईरान पर लगे एकपक्षीय ग़ैर-क़ानूनी प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के आरोप में 16 महीनों तक जेल में क़ैद रखा था। (AK)

टैग्स

कमेंट्स