Jul ०२, २०२० १५:३५ Asia/Kolkata
  • क्या ईरान पर हथियारों के प्रतिबंध बढ़ाने से उसकी सैन्य शक्ति पर असर पड़ेगा? स्पूतनिक का जायज़ा

अमरीका ने 30 जून को सुरक्षा परिषद मे होने वाली आनलाइन बैठक में एक बार फिर ईरान पर संयुक्त राष्ट्र संघ के प्रतिबंधों की अवधि बढ़ाने का प्रयास किया लेकिन सवाल यह है कि इन प्रतिबंधों की अवधि अगर बढ़ाई गयी तो ईरान पर उसका क्या असर पड़ेगा?

 

     प्रोफेसर सैयद मुहम्मद मरंदी ने स्पूतनिक से बात चीत में कहा कि अगर अमरीका ट्रेगर मैकेनिज़्म द्वारा ईरान पर प्रतिबंध लगाना चाहेगा तो इसके लिए यह ज़रूरी है कि युरोप जेसीपीओए को खत्म कर दे लेकिन अभी युरोप में इस तरह का रुझान देखने में नहीं आया है। इसके अलावा रूस और चीन, सुरक्षा परिषद में ईरान के खिलाफ इस तरह का प्रस्ताव पारित नहीं होने देंगे।

     सुरक्षा परिषद की बैठक में विभिन्न देशों ने जो रुख अपनाया था उसको देखते हुए यह नहीं लगता कि अमरीका ईरान के खिलाफ कोई प्रस्ताव पारित करवा पाएगा।

     इसके साथ यह भी निश्चित है कि अगर अमरीका सफल भी हो गया तब भी उसका ईरान की अर्थ व्यवस्था पर कोई विशेष असर नहीं पड़ेगा।

 

     ईरान सुरक्षा परिषद की सातवें अनुच्छेद के अंर्तगत नहीं है और सुरक्षा परिषद ने जो प्रतिबंध लगाए थे अब अमरीका अकेले ही उन्हें लागू कर रहा है इस लिए अगर सारे देश वैसे प्रतिबंध लगा देंगे तो ईरान पर कोई खास असर नहीं होगा।

     ईरान पर हथियारों के प्रतिबंध को बढ़ाने की अमरीका कोशिश कर रहा है जब कि युरोपीय देश और अमरीका दुनिया में हथियार बेचने वाले सब से बड़े देश हैं और उनके घटक, हथियार खरीदने वाले सब से बड़े देश हैं तथा इस समय यमन, लीबिया, सीरिया में भयानक अपराध कर रहे हैं और यमन की जनता को भूखों मार रहे हैं। इन हालात में अमरीका पर हथियारों के प्रतिबंध की अवधि बढ़ाने की कोशिश हास्यास्पद है जबकि अमरीका बारम्बार ईरान को सैन्य कार्यवाही की धमकी भी दे चुका है।

 

     अमरीका एक तरफ तो प्रतिबंध लगा कर ईरानी जनता पर दवा और खाने पीने की चीज़ों के बारे में दबाव बना रहा है और दूसरी तरफ ईरान पर हथियारों का प्रतिबंध लगा कर ईरान को कमज़ोर करना चाहता है लेकिन सच्चाई यह है कि ईरान अपने देश में बने हथियारों और सैन्य उपकरणों से ही अपनी सुरक्षा को सुनिश्चित कर सकता है और ईरान ने यह साबित भी किया है। Q.A. सभार, स्पूतनिक न्यूज़ एजेन्सी

    

      

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

 

टैग्स

कमेंट्स