Sep २२, २०२० १०:३४ Asia/Kolkata
  • बौखलाए अमरीका ने ईरान के 27 लोगों और संस्थाओं पर लगाए प्रतिबंध, तेहरान का करारा जवाब, चीन और रूस का बड़ा बयान

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने ईरान के विरुद्ध नये प्रतिबंध लगाते हुए अजीबो ग़रीब दावा किया है।

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार अमरीकी राष्ट्रपति ने दावा किया है कि ईरान के विरुद्ध नया प्रतिबंध, तेहरान को परमाणु हथियारों तक पहुंच से रोकने के लिए लगाया गया है।

अमरीकी राष्ट्रपति ने सोमवार को ईरान के 27 लोगों और संस्थाओं पर नया प्रतिबंध लगा दिया है।

सुरक्षा परिषद में ईरान विरोधी प्रस्ताव पास कराने में बुरी तरह मुंह की खाने के बाद अमरीकी विदेशमंत्री माइक पोम्पियो, अमरीकी वित्तमंत्री स्टीव मनुचेन और रक्षामंत्री मार्क स्पर ने सोमवार को एक संयुक्त प्रेस कांफ़्रेंस में ईरान के विरुद्ध नये प्रतिबंधों की घोषणा की थी जबकि विदेशमंत्रालय के एक बयान से भी यह प्रतिबंध लागू हो सकते थे।

दूसरी ओर ईरान का कहना है कि अमरीका कभी भी ख़त्म हो चुके प्रस्तावों को वापस नहीं लौटा सकता।

संयुक्त राष्ट्र संघ में ईरान के स्थाई राजदूत मजीद तख़्त रवान्ची ने अमरीकी प्रतिबंधों का जवाब देते हुए कहा कि ईरान के विरुद्ध प्रतिबंध लागू करने के अमरीकी फ़ैसले पर कोई अमल नहीं होगा और यह केवल अमरीका की निराशा और उसकी बौखलाहट का चिन्ह है।

दूसरी ओर चीन का कहना है कि ईरान के विरुद्ध प्रतिबंध लौटाने की अमरीकी कोशिशें, ग़ैर क़ानूनी हैं।

चीन के विदेशमंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चून येंग ने ट्वीट में ईरान के विरुद्ध प्रतिबंधों को लौटाने की अमरीका की परिणामहीन कोशिशों की ओर संकेत करते हुए लिखा कि इन कार्यवाहियों से अमरीका ख़ुद को ही अलग थलग कर रहा है।

उधर रूस के विदेशमंत्री सर्गेई लावरोफ़ ने भी सऊदी अरब के अलअरबिया चैनल से बात करते हुए ईरान के विरुद्ध प्रतिबंधों को लौटाने की अमरीकी कोशिशों की ओर संकेत करते हुए कहा कि अमरीका के अलावा सभी इस विषय से अवगत हैं कि प्रतिबंधों को दोबारा लागू नहीं किया जा सकता। (AK)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स

कमेंट्स