Sep २४, २०२० १४:४६ Asia/Kolkata
  • सऊदी अरब पर ईरान का जवाबी हमला

ईरान के विदेश मंत्रालय ने कहा ह कि सऊदी अरब, तकफ़ीरी आतंकवादी गुटों का जन्म स्थल है और क्षेत्र में वह आतंकवाद का वित्त पोषण कर रहा है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सईद ख़तीबज़ादे ने गुरुवार को ईरान के ख़िलाफ़ सऊदी किंग की हालिया बयानबाज़ी को ख़ारिज करते हुए कहाः सऊदी अरब वर्षों से अपने अपराधों पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है और क्षेत्र में अशांति व अस्थिरता का मुख्य कारण बना हुआ है।

उन्होंने कहा कि सऊदी अरब ने ईरान के ख़िलाफ़ अमरीका और इस्राईल की अधिकतम दबाव की असफल नीति का भरपूर समर्थन किया और जनता के पैसों से अरबों डालर की उन्हें रिश्तव दी, लेकिन यह सब परिणामहीन रहा, बल्कि रियाज़ की बदनामी में अधिक वृद्धि हुई है।

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता का कहना था कि यमन में लगातार हार का मुंह देखने के कारण, सऊदी शासक बौखला गए हैं और भ्रम का शिकार हैं, यही वजह है कि वह दूसरे देशों पर आरोप लगाकर, अपने युद्ध अपराधों और यमनी बचचों के जनसंहार की ज़िम्मेदारी से पल्ला झाड़ना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि ईरान ने क्षेत्र में अपनी ज़िम्मेदारी अदा करते हुए कई बार सऊदी अरब की ग़लतियों पर विश्व समुदाय को सचेत किया है और अपने सिद्धांतों के आधार पर पड़ोसियों के साथ अच्छे रिश्तों का प्रस्ताव दिया है।

ग़ौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें अधिवेशन को संबोधित करते हुए सऊदी किंग सलमान बिन अब्दुल अज़ीज़ ने ईरान पर क्षेत्र में अशांति और अस्थिरता फैलने और अरब देशों के मामलों में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया था। msm

टैग्स

कमेंट्स