Sep २५, २०२० १७:४१ Asia/Kolkata
  • ईरानी जनरल ने क्यों कहा कि अमरीकियों का फ़ार्स खाड़ी में होना हमारे लिए प्लस प्वाइंट है?

ईरान की इस्लामी क्रांति फ़ोर्स आईआरजीसी की नौसेना के कमांडर जनरल अली रज़ा तंगसीरी ने फ़ार्स खाड़ी में प्रवेश करने वाले अमरीका के पांचवें बेड़े की हर हरकत पर नज़र की बात कही है।

जनरल तंगसीरी का कहना था कि स्ट्रेट ऑफ़ होर्मुज़ से फ़ार्स खाड़ी के आख़िरी छोर तक होने वाली हर गतिविधि पर हमारी नौसेना की कड़ी नज़र रहती है, यही वजह है कि जब पिछले हफ़्ते अमरीकी विमान वाहक युद्धपोत यूएसएस निमिट्ज़ के नेतृत्व में अमरीकी नौसेना का पांचवा बेड़ा स्ट्रेट ऑफ़ होर्मुज़ के रास्ते फ़ार्स खाड़ी पहुंचा, तो हमारे ड्रोन विमानों ने उसे ट्रेस किया और उसकी तस्वीरें उतार लीं।

उन्होंने इस संबंध में विस्तार से बताते हुए कहा कि हमने उन्हें कॉल दी और उन्होंने जवाब दिया, हमने ड्रोन भी भेजे और उनसे सवाल किए, उन्होंने हमारे हर सवाल का जवाब दिया। विमान वाहक युद्धपोत जब यहां पहुंचा तो उसके सभी रडार सक्रिय थे, तीन हेलिकॉप्टर उसे एस्कॉर्ट कर रहे थे।

जनरल तंगसीरी का कहना था कि यह हमारा इलाक़ा है, इसलिए हमने कई तरह से उन पर नज़र रखी हुई है, जब तक वे यहां रहेंगे, हमारी नज़रों में रहेंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि फ़ार्स खाड़ी में अमरीकियों का होना या नहीं होना, बराबर है, बल्कि उनका होना इसलिए बेहतर है, क्योंकि वे हमारी पहुंच में हैं और पूरी तरह से हमारे क़ाबू में हैं।

ग़ौरतलब है कि 18 सितम्बर को अमरीकी नौसेना के पांचवे बेड़े ने एक बयान जारी करके कहा था कि यूएसएस निमिट्ज़ के नेतृत्व में हमलावर समूह और दो गाइडेड-मिसाइल क्रूज़र और एक गाइडेड-मिसाइल विध्वंसक, अमरीकी सहयोगियों के साथ काम करने और उन्हें प्रशिक्षण देने के लिए फ़ार्स खाड़ी के लिए रवाना हुए हैं।

नवम्बर 2019 में यूएसएस अब्राहम लिंकन के फ़ार्स खाड़ी से जाने के बाद, यह पहली बार है कि निमिट्ज़ स्ट्राइक ग्रूप यहां पहुंचा है।

हाल ही में कई बार अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ईरान के ख़िलाफ़ संयुक्त राष्ट्र संघ के हथियारों के प्रतिबंधों को आगे भी जारी रखने की धमकी दी थी, जो 18 अक्तूबर को समाप्त हो रहे हैं। msm

टैग्स

कमेंट्स