Oct २१, २०२० ११:३७ Asia/Kolkata
  • इस्राईल से वार्ता करने वालों की स्थिति डांवाडोल हो जाएगीः वरिष्ठ नेता

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने कहा है कि मुसलमान किसी भी तरह इस्राईल के साथ सांठगांठ को स्वीकार नहीं करेंगे।

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता ने ट्वीट कर इस्राईल के साथ कुछ अरब देशों द्वारा संबंधों की स्थापना पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुसलमान किसी भी स्थिति में इस्राईल के साथ सांठगांठ को स्वीकार नहीं करेंगे।

वरिष्ठ नेता के संदेश में आया है कि जो भी देश अतिग्रहणकारी ज़ायोनी शासन के साथ वार्ता करे, उसकी स्थिति जनता में डांवाडोल हो जाएगी।

वरिष्ठ नेता के ट्वीटर संदेश में आया है कि अगर अमरीकी यह सोच रहे हैं कि क्षेत्र के मामलों को इस प्रकार से हल किया जा सकता है तो वह बड़ी ग़लती कर रहे हैं। 

ज्ञात रहे कि मंगलवार को संयुक्त अरब इमारात के एक प्रतिनिधिमंडल ने आर्थिक मामलों के मंत्री अब्दुल्लाह बिन तौक़ के नेतृत्व में इस्राईल का आधिकारिक दौरा किया।

ज्ञात रहे कि 15 सितम्बर को संयुक्त अरब इमारात और बहरैन ने वाइट हाऊस में अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प और इस्राईली प्रधानमंत्री नेतनयाहू की उपस्थिति में इस्राईल के साथ संबंधों की स्थापना के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। (AK)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

इंस्टाग्राम पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स

कमेंट्स