Nov २२, २०२० १८:५९ Asia/Kolkata
  • मार कर भागने का दौर बीत चुका है, इस्राईल को ईरान की कड़ी चेतावनी

सीरिया में ईरानी हितों पर हमलों के इस्राईली दुस्साहस के बीच, तेहरान ने चेतावनी दी है कि जो कोई भी इस अरब देश में ईरान की उपस्थिति में रुकावट डालेगा, उसे मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा।

रविवार को ईरान के विदेश मंत्रालय ने सीरिया में ईरानी हितों को नुक़सान पहुंचाने के इस्राईल के प्रयासों को कुचलने के वादा करते हुए कहा कि मार के भागने का समय बीत चुका है।

इसी हफ़्ते इस्राईल ने सीरिया में सीरियाई और ईरानी सैन्य ठिकानों पर हवाई हमला किया था।

2011 में सीरिया में सशस्त्र विद्रोह शुरू होने के बाद से ही इस्राईल, सीरियाई सरकार को कमज़ोर करने के लिए सीरियाई सेना और हिज़्बुल्लाह समेत उसका समर्थन करने वाले स्वयं सेवी बलों के ठिकानों पर बमबारी करता रहा है।

ईरान पहला ऐसा देश था, जिसने 2014 में दाइश के ख़िलाफ़ लड़ाई में दमिश्क़ के समर्थन के लिए अपने सैन्य सलाहकार सीरिया में तैनात किए और दाइश की पराजय में अहम भूमिका अदा की।

बुधवार को इस्राईली सेना के एक प्रवक्ता ने दावा किया था कि इस्राईली लड़ाकू विमानों ने दमिश्क़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट स्थित ईरान के एक मुख्यालय समेत 8 लक्ष्यों को निशाना बनाया, जिसमें से एक ख़ुफ़िया सैन्य ठिकाना भी था, जहां सीरिया यात्रा के दौरान ईरान के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ठहरते थे।

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सईद ख़तीबज़ादे ने वर्चुअल साप्ताहिक प्रेस कांफ़्रेंस में कहाः ज़ायोनी शासन को अच्छी तरह से पता है कि मारकर भागने वाला दौर बीत चुका है, इसीलिए वह बहुत सतर्क है।

ख़तीबज़ादे का कहना था कि सीरिया में ईरान की उपस्थिति सलाहकार के रूप में है, अगर कोई इसमें अवरुद्ध उत्पन्न करेगा, तो हम मुंह तोड़ जवाब देंगे।

लंदन स्थित तथाकथित सीरियाई मानवाधिकार संगठन का कहना है कि इस्राईल के हालिया हमलों में 10 लोगों की मौत हुई है। हालांकि ख़तीबज़ादे ने हमले में किसी ईरानी के शहीद होने की पुष्टि करने से इनकार कर दिया। msm

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स