Nov २६, २०२० ०८:३४ Asia/Kolkata
  • वाइट हाउस से जाते जाते ईरान पर ट्रम्प के हमले की अटकलों के बीच ईरान की रेवोलुश्नरी गार्ड फ़ोर्स के कमांडर ने दिया बयान, कहा हमले का विकल्प अमरीकी सेना के बस के बाहर

ईरान की रेवोलुश्नरी गार्ड फ़ोर्स आईआरजीसी के कमांडर इनचीफ़ जनरल हुसैन सलामी ने कहा कि सामरिक हमला अमरीकी सेना के बस के बाहर का विकल्प है।

ईरान की विशाल देशव्यापी स्वयंसेवी फ़ोर्स के गठन की वर्षगांठ के अवसर पर अपने संदेश में जनरल सलामी ने कहा कि हम सब जनता के साथ खड़े हैं और अपने मार्गदर्शक आयतुल्लाह ख़ामेनई के आदेश के अनुसार जनता की सेवा करते हैं जो स्वयंसेवी फ़ोर्स की संस्कृति है।

जनरल सलामी ने कहा कि स्वयंसेवी किसी भी दुशमन से नहीं घबराते लेकिन इसके साथ ही वह दया और प्रेम की प्रतिमा भी होते हैं। उन्होंने कहा कि दुशमन हमारे देश पर हमला करने के बारे में सोचता है तो उसे हताशा और निराशा होती है।

अमरीका और अन्य पश्चिमी देशों की ओर से ईरान पर लगाए गए अमानवीय प्रतिबंधों का हवाला देते हुए जनरल सलामी ने कहा कि सैनिक चढ़ाई दुशमन सेना के बस का विकल्प नहीं है अलबत्ता उसने हमारी जनता, हमारे धर्म, हमारी अर्थ व्यवस्था और हमारे स्वास्थ्य के ख़िलाफ़ ज़रूर अपनी कोशिशें की हैं।

जनरल सलामी ने कहा कि हम डटे हुए हैं और डटे रहेंगे, इस मुक़ाबले में शिकस्त दुशमन की होगी जिसे अपना सूरज डूबता हुआ दिखाई देने लगा है जबकि हमारी क्रांति का सूरज क्षितिज पर जगमगा रहा है।

ज्ञात रहे कि इस प्रकार की ख़बरें मीडिया में हैं कि इस्राईली सेना को एलर्ट कर कर दिया गया है कि वाइट हाउस से जाते जाते डोनल्ड ट्रम्प ईरान पर हमला कर सकते हैं तो इसके जवाब में ईरान जहां अमरीकी ठिकानों को निशाना बना सकता है वहीं इस्राईल पर भी हमला कर सकता है।

इस्राईल की सामरिक विषयों पर लिखने वाली वेबसाइट वल्ला ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि इस्राईली सेना को एलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं क्योंकि ईरान ख़ुद या अपने घटक संगठनों की मदद से इस्राईल पर जवाबी हमला कर सकता है।

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स