Nov २६, २०२० ०९:२२ Asia/Kolkata
  • ईरान की तरफ़ नज़रें टेढ़ी करने वालों को ऐसा दर्दनाक जवाब मिलेगा जिसके बारे में उन्होंने सोचा भी नहीं होगाः जनरल मूसवी

ईरान की सशस्त्र सेना के कमान्डर ने कहा है कि,  जहां भी दुश्मन ने अपनी ताक़त दिखाने की कोशिश की है वहां इस्लामी गणतंत्र ईरान की नौसेना पूरी शक्ति के साथ सामने आई है और गौरांवित हुई है।

इस्लामी गणतंत्र ईरान की सशस्त्र सेना के कमान्डर जनरल सैयद अब्दुर्रहीम मूसवी बुधवार को नौसेना दिवस के मौक़े पर कहा कि, चीन सागर से अटलांटिक महासागर तक ईरानी जहाज़ों की सफल उपस्थिति, इसी तरह अदन की खाड़ी से लेकर बाबुल मंदब तक और भूमध्य सागर से लेकर दक्षिण अफ़्रीक़ा तक,  हर जगह देश की नौसेना ने कामयाबी के झंडे गाड़े हैं। कमान्डर जनरल मूसवी ने कहा कि, ईरान की नौसेना युद्धक स्पीड बोटों और आधुनिक युद्धक नौकाओं से लेकर हर तरह की पनडुब्बियां देश की आंतरिक क्षमताओं और विशेषज्ञों के सहारे बनाने में सफल हुआ है। इसी तरह संचार, मिसाइल और रक्षा प्रणाली भी आंतरिक विशेषज्ञों की ही देन है। उन्होंने कहा कि नौसेना की युद्ध रणनीति ख़ुद की है जो उसने समुद्री युद्ध के अनुभवों से हासिल की है। जनरल कमान्डर मूसवी ने कहा कि आज ईरान की नौसेना ने में दुनिया समुद्रीय ताक़त में अपना लोहा मनवा लिया है।

इस्लामी गणतंत्र ईरान की सशस्त्र सेना के कमान्डर जनरल सैयद अब्दुर्रहीम मूसवी ने ईरानी नौसेना की लंबी दूरी तक मार करने वाली मिसाइलों की ओर इशारा करते हुए कहा कि, अगर दुश्मन अपनी ताक़त के नशे में आकर ईरान की ओर टेढ़ी नज़र से देखने की कोशिश करेगा तो उसको ईरानी नौसेना का ऐसा मुंहतोड़ जवाब मिलेगा कि जिसकी उसने कल्पना भी नहीं की होगी। याद रहे कि इस्लामी क्रांति के संस्थापक स्वर्गीय इमाम ख़ुमैनी (र.ह) ने ईरान पर थोपे गए युद्ध के दौरान देश की नौसेना द्वारा दर्ज की गई अनगिनत उपलब्धियों को देखते हुए 7 आज़र अर्थात 27 नवंबर को नौसेना दिवस की घोषणा की थी। (RZ)

ताज़ातरीन ख़बरों, समीक्षाओं और आर्टिकल्ज़ के लिए हमारा फ़ेसबुक पेज लाइक कीजिए!

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स