Jan १६, २०२१ १३:३५ Asia/Kolkata
  • 8 लाख 50 हज़ार अफ़ग़ान, अपनी मर्ज़ी से स्वदेश लौटे, लेकिन फिर वापस ईरान आ गये....

प्रतिदिन लगभग एक हज़ार अफ़ग़ान शरणार्थी स्वेच्छा से स्वदेश लौट रहे हैं

कोरोना महामारी फैलने की वजह से वर्ष 2020 में स्वेच्छा से 8 लाख 50 हज़ार अफ़ग़ान शरणार्थी स्वेच्छा से स्वदेश लौट चुके हैं। समाचार एजेन्सी इर्ना की रिपोर्ट के अनुसार अफ़ग़ान शरणार्थियों के मामलों के प्रवक्ता मोहम्मद रज़ा बाहिर ने कहा कि जो अधिकांश अफ़ग़ान शरणार्थी स्वेच्छा से पिछले वर्ष स्वदेश लौट गये हैं वे अफ़गानिस्तान में अशांति और काम न होने की वजह से दोबारा ईरान लौट आये हैं।

बाहिर ने कहा कि प्रतिदिन लगभग एक हज़ार अफ़ग़ान शरणार्थी नीमरूज़ सीमा से हेरात में दाखिल हो रहे हैं परंतु अफ़ग़ानिस्तान में काम न होने की वजह से बहुत से शरणार्थी दोबारा ईरान लौट आते हैं।

ज्ञात रहे कि अफगानिस्तान में 40 वर्षों से युद्ध और असुरक्षा के कारण दसियों लाख अफ़ग़ानी शरणार्थी के रूप में इस्लामी गणतंत्र ईरान में रहे हैं। यही नहीं बहुत से अफ़ग़ान शरणार्थी ईरान में उच्च स्तर की शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं और बहुत सी सामाजिक गतिविधियों में व्यस्त हैं।

अफ़ग़ानिस्तान की सरकार ने इस देश के शरणार्थियों के स्वागत के कारण ईरानी सरकार और राष्ट्र की हमेशा सराहना की है। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स