Jan २०, २०२१ १४:४० Asia/Kolkata
  • बाइडन के शपथग्रहण के दिन, वाॅशिंग्टन सैनिक छावनी बना हुआ हैः रूहानी

राष्ट्रपति ने इस बात पर बल देते हुए कि आज डोनल्ड ट्रम्प की अशुभ सरकार के ख़ात्मे का दिन है, कहा है कि अमरीका के नए राष्ट्रपति के शपथग्रहण के दिन वाॅशिंग्टन एक सैन्य छावनी में बदल गया है।

डाॅक्टर हसन रूहानी ने बुधवार को मंत्रीमंडल की बैठक में राजनैतिक मंच पर अमरीका के अकेले पड़ जाने को ट्रम्प सरकार की विरासत बताया और कहा कि विदेश नीति के क्षेत्र में ट्रम्प की ग़लत नीतियों के चलते आज अमरीका, वैश्विक संगठनों में और फ़िलिस्तीन, परमाणु समझौते और अन्य अंतर्राष्ट्रीय मामलों में अकेला पड़ चुका है। उन्होंने इस बात का उल्लेख करते हुए कि अमरीकी समाज में विभाजन, ट्रम्प की अशुभ धरोहर है, कहा कि अपने पूरे चार वर्षीय कार्यकाल में ट्रम्प ने अत्याचार, भ्रष्टाचार और अपनी जनता व संसार के लोगों के लिए समस्याएं पैदा करने के अलावा और कुछ नहीं किया है।

 

ईरान के राष्ट्रपति डाॅक्टर रूहानी ने इसी तरह अमरीका के सरकारी आतंकवाद की तरफ़ इशारा करते हुए कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति ने स्पष्ट शब्दों में स्वीकार किया है कि उन्होंने एक वरिष्ठ सैन्य कमांडर की, जो एक अन्य देश का सरकारी मेहमान था, हत्या करवाई है और इसके माध्यम से उन्होंने अमरीका के माथे पर सरकारी आतंकवाद का ठप्पा लगा दिया। उन्होंने अमरीका में नई सरकार के सत्ता में आने और ईरानी राष्ट्र पर लगे हुए प्रतिबंधों को हटाए जाने की आवश्यकता की तरफ़ इशारा करते हुए कहा कि अगर अमरीकी, कोई आदेश जारी करेंगे तो ईरान भी उसके मुक़ाबले में एक आदेश जारी करेगा। राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि आज ईरानी राष्ट्र और पूरी दुनिया के लिए स्पष्ट हो गया है कि आर्थिक आतंकवाद और अधिकतम दबाव की नीति, सौ प्रतिशत विफल हो चुकी है और ईरानी जनता ने अपने प्रतिरोध से दुश्मनों के लक्ष्यों को पूरा नहीं होने दिया है। (HN)

 

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स