Mar १७, २०२१ १७:५६ Asia/Kolkata
  • राष्ट्रपति रूहानी ने कोरोना के हालात में देश में आर्थिक विकास की दर को सराहा

राष्ट्रपति रूहानी ने 21 मार्च से शुरू हो रहे ईरानी नौवर्ष को कोरोना वायरस और पाबंदियों को क़ाबू करने का साल कहा है।

डॉक्टर हसन रुहानी ने मंत्रीमंडल की बैठक के बाद, उम्मीद जतायी कि महान ईरानी राष्ट्र, जिसने सभी मंचों पर एकता और दृढ़ता से बड़ी बड़ी कामयाबियां हासिल की हैं, नए साल में भी बड़ी कामयाबियां हासिल करेगा। उन्होंने यह उम्मीद जताते हुए कि नए ईरानी वर्ष 1400  हिजरी शम्सी में ईरानी कोरोना वैक्सिन बर्कत, राज़ी और फ़ख़्रा तक सभी लोगों की पहुंच हो सकेगी, बल दिया कि अगला साल कोरोना को क़ाबू में करने में बेहतर साल साबित होगा और सभी एक दूसरे के साथ सहयोग करें और गाइडलाइन पर अमल करें। राष्ट्रपति रूहानी ने इस बात का ज़िक्र करते हुए कि 2018 से देश को आर्थिक जंग का सामना है और इस जंग में हम अकेले थे, कहाः “जिस तरह 8 साल की जंग में हमलावरों के मुक़ाबले में अकेले थे और राष्ट्र ने दृढ़ता दिखाई, इस तीन साल की थोपी गयी आर्थिक जंग में भी हमारा राष्ट्र अकेला था और वह पूरी ताक़त से डटा रहा।”

 

ईरानी राष्ट्रपति ने इस बात की ओर इशारा करते हुए कि कोरोना के इस साल में कुछ देशों को छोड़ सभी देशों में आर्थिक विकास की दर नकारात्मक थी, कहाः “पहली तिमाही में हमारी विकास दर नकारात्मक थी, दूसरी और तीसरी तिमाही में काफ़ी कोशिश हुयी और 9 महीने की कोशिश के नतीजे में देश के आर्थिक विकास की दर सकारात्मक हो गयी।” उन्होंने मौजूदा वक़्त को पाबंदियों के असर को नाकाम बनाने के लिए किसी भी दूसरे समय की तुलना में सहायक बताते हुए कहाः अमरीकी बारंबार जेसीपीओए की ओर लौटने और प्रतिबद्धताओं को अंजाम देने की बात कर रहे हैं, लेकिन सिर्फ़ ज़बान से कहना काफ़ी नहीं है, हम अमल में बदलाव देखना चाहते हैं। (MAQ/N)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स