Apr १०, २०२१ १७:११ Asia/Kolkata
  • अमरीका से वियना या कहीं और, डायरेक्ट या इन्डायरेक्ट बातचीत की ज़रूरत नहीं हैः ईरान

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने अमरीका से डायरेक्ट या इन्डायरेक्ट बातचीत को ग़ैर ज़रूरी बताया।

सईद ख़तीबज़ादे ने बल दिया कि सभी पाबंदियों के ख़त्म होने और जेसीपीओए में अमरीका की वापसी से पहले, वॉशिंगटन से सीधी या इन्डायरेक्ट बात की कोई ज़रूरत नहीं है।

उन्होंने सीएनएन से इंटरव्यू में बल दियाः “जेसीपीओए में अमरीका की वापसी से पहले, ईरान वियना या किसी और जगह डायरेक्ट या इन्डाटरेक्ट बातचीत नहीं करेगा।”

सईद ख़तीबज़ादे ने कहा कि ईरान की नीति बिल्कुल साफ़ है और ईरान के ख़िलाफ़ सभी पाबंदियाँ हटनी चाहिये। उन्होंने कहा कि बाइडेन सरकार अमल से दिखाए न कि काग़ज़ पर ट्रम्प की ग़लतियों को सुधारने की कोशिश करे।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि बाइडेन सरकार में कुछ लोग जेसीपीओए का पालन करने के बजाए, ट्रम्प सरकार से ज़्यादा ईरान के ख़िलाफ़ पाबंदियों की बात कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि दुनिया में कोई भी देश अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता नहीं कर सकता और मीज़ाइल, देश की रक्षा के लिए है। ख़तीबज़ादे ने कहा कि ईरान के ख़िलाफ़ ट्रम्प सरकार की ओर से लगायी गयी सभी पाबंदियां हटनी चाहिएं और जनवरी 2017 से पहले की स्थिति लौटनी चाहिए।

सईद ख़तीबज़ादे ने बल दिया कि अमरीका सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव 2231 के मुताबिक़, सभी प्रतिबद्धताओं का पालन करे और ईरान के ख़िलाफ़ सभी पाबंदियाँ हटाए। (MAQ/N)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स