Apr २१, २०२१ १८:४७ Asia/Kolkata
  • ईरान ने इराक़ में दाइश के विरुद्ध संघर्ष में साथ दिया, अमरीका और यूरोप ने धोखा दियाः यूरोपीय प्रतिनिधि

यूरोपीय संघ के एक प्रतिनिधि ने बताया है कि अमरीका के विपरीत, ईरान ने इराक़ में दाइश के विरुद्ध संघर्ष में सहयोग किया।

यूरोपीय संघ की संसद में आयरलैंण्ड के प्रतिनिधि ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि जब इराक़ अमरीका से अपने देश में दाइश के विरुद्ध संघर्ष के लिए सहायता मांग रहा था तो वाशिग्टन ने इस मांग को ठुकरा दिया था हालांकि इस मौक़े पर ईरान ने इराक़ का साथ दिया था।

फ़ार्स न्यूज़ के अनुसार मेक वेलास ने मंगलवार की रात ट्वीट करके दाइश को इराक़ पर अमरीका के ग़ैर क़ानूनी हमले की उपज बताया। यूरोपीय संघ में आयरलैण्ड के प्रतिनिधि ने बताया कि इराक़ पर अमरीकी हमले से दाइश फला-फूला और दाइश के अधिकतर सदस्यों का संबन्ध उन जेलों से था जहां पर अमरीकी, बेगुनाहों को यातनाएं दिया करते थे।

मेक वेलास ने लिखा कि जब इराक़ ने दाइश से संघर्ष में ओबामा से मदद मांगी तो उन्होंने इस मांग को रद्द कर दिया।  उसी समय अमरीका, इस्राईल और फ़ार्स की खाड़ी के कुछ देशों ने दाइश के आतंकवादियों को हथियार भी दिए थे। 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स