Jun २४, २०२१ १७:५८ Asia/Kolkata
  • प्रतिरोध की बढ़ती ताक़त से बौखलाए अमरीका की कार्यवाही की निंदा, हक़ की आवाज़ दबाई नहीं जा सकती

लेबनान के इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन हिज़्बुल्लाह ने प्रतिरोध से संबंधित कुछ साइटों को बंद करने पर आधारित अमेरिकी क़दम की भर्त्सना की है।

अलमनार के अनुसार हिज़्बुल्लाह के जनसंपर्क कार्यालय के ज़िम्मेदार मोहम्मद अफ़ीफ़ ने कहा कि अमेरिका का यह क़दम एक अपराध और आज़ादी को दमन करने की नीति की पुष्टि है जिसे वाशिंग्टन ने अपना रखा है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका इस क़दम से अपने और अपने घटकों के अपराधों को क्षेत्रीय जनता विशेषकर फिलिस्तीनी और यमनी जनता के खिलाफ अपराधों पर पर्दा डालना चाहता है।

इसी प्रकार हिज़्बुल्लाह के इस अधिकारी ने उन साइटों के प्रति अपने समर्थन की घोषणा की और एक कंपेन चलाये जाने का एलान किया जिन्हें अमेरिका ने बंद कर दिया।

अमेरिकी विधि मंत्रालय ने बुधवार को इराकी हिज्बुल्लाह की "मालूमा वेब साइट, काफ मिडिया इराक़, अलआलम, यमन की अलमसीरा वेबसाइट, बहरैन की "अल्लुलू बहरैन, ईरान की प्रेस टीवी की वेब साइट, फिलिस्तीन अलयौम और अलकौसर पर प्रतिबंध लगा दिया। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स