Sep २०, २०२१ ०८:०१ Asia/Kolkata
  • सऊदी अरब में 41 लोगों को किसी भी समय दी जा सकती है फांसी, मानवाधिकार संगठनों ने किया आगाह

सऊदी अरब की जेलों में बंद 41 लोगों को किसी भी समय फांसी का सामना करना पड़ सकता है।

सऊदी लीक्स वेबसाइट के अनुसार मानवाधिकार संगठनों ने रविवार को बताया है कि सन 2021 के आरंभ से सऊदी अरब में 50 लोगों को मौत की सज़ा दी जा चुकी है।

मानवाधिकार संगठनों के अनुसार पुष्ट रिपोर्टों के आधार पर कहा जा रहा है कि सऊदी अरब की जेलों में 41 लोग एसे हैं जिनको कभी भी फांसी के तख़्ते पर लटकाया जा सकता है।

सऊदी लीक्स के अनुसार सऊदी अरब की ज्यूडीशियरी, जेल में बंद क़ैदियों के बारे में अपने हिसाब से फांसी की सज़ा सुना देती है।  उनके आदेश में पारदर्शिता नहीं होती।  वे क़ैदियों की स्वीकारोक्ति के आधार पर ही उनको सज़ा सुनाते हैं जो अधिकतर उन्हें यातनाएं देकर ली जाती है।

सऊदी अरब में सन 2020 में 27 लोगों को फांसी की सज़ा दी गई थी जबकि इससे एक साल पहले सन 2019 में यह संख्या 184 थी।  मानवाधिकारों से एक संगठन "सनद" ने सऊदी अरब से मांग की है कि वह मानवाधिकारों का सम्मान करे और क़ैदियों के बारे में न्यापूर्ण रवैया अपनाए।

याद रहे कि क्षेत्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठनों ने सऊदी अरब से बारंबार मानवाधिकारों के सम्मान और क़ैदियों के साथ निष्पक्ष ढंग से व्यवहार करने की मांग की है।  वहां पर सोशल कार्यकर्ताओं को बोलने का अधिकार नहीं है।

 हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजि

टैग्स