Sep २०, २०२१ २०:४९ Asia/Kolkata
  • ईरान के मुकाबले में ट्रंप और नेतनयाहू की नीति राजनीतिक दिवालियापन हैः बराक

इस्राईल के पूर्व प्रधानमंत्री एहूद बराक ने कहा है कि तेलअवीव के पास ईरान का मुकाबला करने के लिए कोई कार्यक्रम नहीं है।

एहूद बाराक ने एक लेख लिखा है जिसमें समाचार पत्र न्यूयार्क टाइम्स के हालिया उस दावे की ओर भी संकेत किया है जिसमें दावा किया गया था कि परमाणु हथियार बनाने के लिए आवश्यक संसाधनों व उपकरणों को बनाने में ईरान को केवल एक महीने का समय लगेगा।

एहूद बराक के अनुसार ईरान के मुकाबले में ट्रंप और बिनयामिन नेतनयाहू ने जो नीति अपनाई वह राजनीतिक दिवालियापन है। उन्होंने कहा कि अमेरिका का परमाणु समझौते से निकलना इस बात का कारण नहीं बना कि ईरान प्रतिबंधों के कारण अपने दृष्टिकोणों से पीछे हट जाये परंतु उसने तेहरान को यह क्षमता व शक्ति प्रदान कर दी कि वह परमाणु प्रतिष्ठानों पर निगरानी को समाप्त कर दे।

एहूद बराक ने दूसरे जायोनी और अमेरिकी अधिकारियों की हां में हां मिलाते हुए दावा किया कि ये ईरानी थे जो हालिया परमाणु वार्ता के मार्ग में विघ्न उत्पन्न करते थे और व्यवहारिक रूप से उन्होंने अपने परमाणु संयंत्रों की निगरानी बंद कर दी और सैनिक सतह पर यूरेनियम का संवर्द्धन आरंभ कर दिया है।

उन्होंने लिखा कि चीन अमेरिका के लिए एक चुनौती है और ईरान अमेरिका के लिए चुनौतियों की दिशा में एक कांटा है। साथ ही एहूद बराक ने लिखा कि ईरान के बारे में अमेरिका और इस्राईल के बीच बुनियादी मतभेद हैं। उन्होंने दावा किया कि इस बात की संभावना है कि अमेरिका ईरान को परमाणु संपन्न देश के रूप में स्वीकार कर ले और यह इस्राईल के लिए बहुत बड़ी चुनौती होगी।

उन्होंने अपने लेख में लिखा कि अगर इस्राईल ईरान पर हमला करना चाहे तो कर सकता है परंतु इस काम के गंभीर परिणाम होंगे और उसका नुकसान फायदे से कहीं अधिक हो सकता है। एहूद बराक स्वीकार करते हुए लिखते हैं कि इस प्रकार के हमले के अमली होने की स्थिति में भी ईरान को परमाणु कार्यक्रमों से नहीं रोका जा सकता।

रोचक बात यह है कि ईरान की शांतिपूर्ण परमाणु गतिविधियों के प्रति वह इस्राईल चिंता जता रहा है जिसके पास लगभग 300 परमाणु वार हेड्स हैं और वह परमाणु ऊर्जा की अंतरराष्ट्रीय एजेन्सी के निरीक्षकों को अपने परमाणु संयंत्रों के निरीक्षण की अनुमति भी नहीं देता है। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजि

 

टैग्स