Sep २९, २०२१ १५:५६ Asia/Kolkata

इराक़ में इस साल हज़रत इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम और उनके निष्ठावान साथियों के चेहलुम के अवसर पर आयोजित होने वाले मिलियन मार्च में 16 मिलियन तीर्थयात्रियों और श्रद्धालुओं ने भाग लिया।

इराक़ के पवित्र स्थलों की संस्था की रिपोर्ट के अनुसार इस साल कोरोना वायरस के क़हर के बावजूद हज़रत इमाम हुसैन और उनके निष्ठावान साथियों के चेहलुम के कार्यक्रमों और अरबईन मिलियन मार्च में 16 मिलियन अर्थात 1 करोड़ 60 लाख से अधिक तीर्थयात्रियों ने भाग लिया।

कोरोना वायरस की वजह से इराक़ सरकार ने ईरान से 60 हज़ार तीर्थयात्रियों को अरबईन वाक में शामिल होने की इजाज़त दी थी किन्तु बाद में यह संख्या बढ़ा दी गयी जिसकी वजह से 90 हज़ार ईरानी श्रद्धालुओं और तीर्थयात्रियों ने अरबईन मार्च में भाग लिया।

इराक़ के स्वयं सेवी बल हश्दुश्शाबी ने एलान किया कि इस साल अरबई के कार्यक्रम और अरबईन मिलियन मार्च की सुरक्षा पर साठ हज़ार से अधिक सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया जिनमें सादी वर्दी में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया था।

स्वयं सेवी बल के बयान में आया है कि इस सवाल अरबईन मिलियन मार्च का कार्यक्रम शांतिपूर्ण ढंग से आयोजित हुआ और कोई भी अप्रिय घटना नहीं घटी। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए!

टैग्स