Oct १४, २०२१ १२:२७ Asia/Kolkata

इराक़ में डिजिटल मतगणना और हाथ से की जाने वाली मतगणना में मतभेद के बाद जिसकी वजह से इराक़ की कुछ पार्टियों की सीटें घट गयीं और कुछ पार्टियों की संख्या बढ़ गयीं, इराक़ के मुख्य चुनाव आयोग ने सारे वोटों की गिनती हाथ से किए जाने का आदेश जारी कर दिया।

 इराक़ के मुख्य चुनाव आयोग के प्रवक्ता हसन सलमान का कहना है कि चुनाव आयोग ने अब तक 57 हज़ार 944 मतपेटियों की गिनती कम्पयुटर द्वारा कराई और उसने 140 मतदान केन्द्रों के मतों की गिनती शुरू कर दी है।

 जानकार लेकिन अनाधिकारिक सूत्रों का कहना है कि हाथ से वोटो की गिनती की वजह से नूरी मालेकी के गठबंधन अलक़ानून, हादी अलआमेरी के गठबंधन अलफ़त्ह और कुर्दिस्तान डेमोक्रेसी की सीटें ज़्यादा हो गयीं जबकि सद्र धड़े और हलबूसी के गटठबंधन की सीटें कम हो गयीं, लेकिन यह सवाल पैदा होता है कि सीटों में यह बदलाव, अगली सरकार के गठन में कितना प्रभावी होगा।

 अलफ़त्ह गठबंधन के प्रवक्ता अहमद असदी का कहना है कि हमारी मुख्य मांग जनता के वोटों की सही गिनती है, हमारे किसी भी राजनैतिक गुट से मतभेद नहीं हैं और अगली सरकार के गठन में सभी लोगों की भागीदारी की मांग करते हैं लेकिन डिजिटल मतगठना और हाथ से की जाने वाली गिनती में अंतर था जिसने हमें चिंतित कर दिया।

 कुछ चुनाव क्षेत्र में परिणामों के परिवर्तन की वजह से संभव है कि चुनाव आयोग एक फिर कुछ मतपेटियों की गिनती करे, यही वजह है कि इराक़ के प्रधानमंत्री मुस्तफ़ा अलकाज़ेमी ने बुधवार को इराक़ी सेना के संयुक्त आप्रेशनल कमान का दौरा किया और उनसे विभिन्न प्रांतों और क्षेत्रों से बग़दाद भेजी जाने वाली मतपेटियों की सुरक्षा की अपील की, इराक़ के मुख्य चुनाव आयोग ने कहा है कि मतों की हाथ से गिनती का सिलसिला अगले हफ़्ते तक जारी रहेगा, और अंतिम परिणामों का पता लगभग 20 दिन बाद ही सामने आएगा। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स