Oct १७, २०२१ २०:१२ Asia/Kolkata
  • दुश्मनों को हिज़्बुल्लाह की धमकी, हमारे सब्र का इमतेहान न लो...

हिज़्बुल्लाह आंदोलन का कहना है कि हम गृहयुद्ध की तरफ़ कभी भी नहीं जाएंगे।

लेबनानी संसद में हिज़्बुल्लाह के सांसद मुहम्मद राद ने कहा कि बैरूत के शहीदों का बलिदान बर्बाद नहीं होगा लेकिन हिज़्बुल्लाह गृहयुद्ध और आंतरिक शांति को भंग करने की ओर नहीं जाएगा।

उन्होंने कहा कि जब लोग भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ मैदान में आए तो कुछ लोग निकलकर हिज़्बुल्लाह के ख़िलाफ़ नारे लगा रहे थे। उनका कहना था कि हिज़्बुल्लाह पर आतंकवाद का आरोप लगाने वाले ही आतंकवादी हैं क्योंकि उनके इतिहास पर नज़र डालने से जनसंहार, आंतरिक शांति को भंग करने और देश को अशांति करने में उनकी भूमिका का पता चलता है।

हिज़्बुल्लाह ने बैरूत धमाके की सच्चाई से पर्दा उठाने का संकल्प दोहराया है।

हिज़्बुल्लाह की कार्यकारी कमेटी के उप प्रमुख ने कहा है कि अमरीका और उसके एजेन्टों के अपराध और फ़ितने, बैरूत धमाके की सच्चाई से पर्दा उठाने के लिए प्रतिरोध के मोर्चे की कोशिशों को नहीं रोक पाएंगे।

शैख़ अली दामूश ने कहा कि हिज़्बुल्लाह और अमल आंदोलन क़ानून की परिधि में इस मामले को आख़िर तक ले जाएंगे और जो भी इन अपराधों में लिप्त रहा है, वह मुक़द्दमे और सज़ा से बच नहीं पाएंगे।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार की करतूतों का लक्ष्य, हिज़्बुल्लाह को ताक़त और प्रतिरोध से रोकना है। उनका कहना था कि हमारे संयम को हमारी मजबूरी न समझें बल्कि हम दुश्मनों की साज़िशों को नाकाम बनाने के लिए ताक़त के साथ सब्र कर रहे हैं।

शैख़ अली दामूश ने कहा कि हम नहीं चाहते कि हमारे देश में मतभेद फैल जाए, हम दुश्मन को उसके लक्ष्य में सफल नहीं होने देंगे, दुश्मन अपनी साज़िशों के मुक़ाबले में हमें मज़बूत पहाड़ की तरह डटा हुआ पाएंगे। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स