Oct २८, २०२१ १०:०८ Asia/Kolkata
  • क्या इराक़ में फिर से सिर उठा रहा है दाइश? दियाला में हुए आतंकी हमलों पर हिज़्बुल्लाह का महत्वपूर्ण संदेश

इराक़ के दियाला प्रांत के "अलरिशाद" गांव पर तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश द्वारा किए गए हमले पर प्रतिक्रिया देते हुए हिज़्बुल्लाह ने हालिया दिनों में दियाला प्रांत पर हुए आतंकी हमलों की कड़े शब्दों में निंदा की है और कहा है कि दाइश आज भी इराक़ के लिए सबसे गंभीर ख़तरा बना हुआ है।

अलमनार टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक़, हिज़्बुल्लाह ने इराक़ के दियाला प्रांत में हाल के दिनों में एक के बाद एक हुए आतंकी हमलों की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा है कि तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश आज भी इराक़ की सुरक्षा और एकता के लिए सबसे बड़ा ख़तरा बना हुआ है। हिज़्बुल्लाह के बयान में आया है कि जहां एक ओर दाइश इराक़ की शांति व स्थिरता के लिए सबसे बड़ा ख़तरा बना हुआ है वहीं उसका समर्थन करने वाले देश भी इस अवसर से फ़ायदा उठाते हुए इराक़ की शांति व स्थिरता को लगातार नुक़सान पहुंचाने की अपनी षड्यंत्रकारी योजनाओं का आगे बढ़ा रहे हैं। हिज़्बुल्लाह के बयान में आया है कि इन जघन्य अपराधों को दृष्टिगत रखते हुए यह वह समय है जब इराक़ी राष्ट्र पूरी एकता और एकजुटता के साथ दाइश के बचे और छिपे हुए तत्वों को सामने लाएं और उन्हें हमेशा के लिए नष्ट कर दें।

हिज़्बुल्लाह ने हालिया आतंकी हमलों के पीड़ित परिवार वालों और इराक़ी राष्ट्र और सरकार को सांत्वना पेश करते हुए उनके प्रति अपनी सहानुभूति जताई और इस बात पर बल दिया कि इराक़ी राष्ट्र के पास आतंकवाद से लड़ने का एक लंबा अनुभव है और वह तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश के ख़तरों से देश में शांति व सुरक्षा को स्थापित करने में पूरी तरह सक्षम हैं और हमे उम्मीद है कि आने वाले दिनों में इराक़ी बल दाइश के बचे हुए तत्वों का भी इराक़ से सफ़ाया कर देंगे। ग़ौरतलब है कि समाचार सूत्रों ने मंगलवार को पूर्वी इराक़ के दियाला प्रांत के गई गांवों पर आतंकी गुट दाइश द्वारा किए गए आतंकी हमलों की सूचना दी थी। इन आतंकी हमलों में 15 से अधिक हताहत र 18 अन्य घायल हुए थे।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका, पश्चिमी देशों और सऊदी अरब के वित्तीय समर्थन से आतंकवादी गुट दाइश ने सन 2014 में इराक़ पर हमला करके इस देश के उत्तरी और पश्चिमी भागों पर नियंत्रण कर लिया था। अपने कब्ज़े के दौरान दाइश ने इराक़ में जघन्य अपराधों का अंजाम दिया था। याद रहे कि इराक़ में तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश को हुए पराजय के बावजूद इस गुट के बचे हुए तत्व इराक़ के विभिन्न इलाक़ों में छिपे हुए हैं जो समय-समय पर इराक़ में आतंकवादी कार्यवाहियों को अंजाम देते रहते हैं। वहीं इराक़ी सेना और स्वयंसेवी बले लगातार दाइश के छिपे हुए आतंकियों के ख़िलाफ़ अभियान जारी रखे हुए है ताकि इराक़ से अमेरिका और सऊदी अरब समर्थित तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश पूर्ण रूप से सफ़ाया किया जा सके। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स