Nov २७, २०२१ १९:४० Asia/Kolkata

जायोनी सैनिकों के हमले में कुछ पत्रकारों सहित बैता नगर में कई फिलिस्तीनी जवान घायल हो गये।

जायोनी सैनिक पश्चिमी किनारे के उत्तर में स्थित बैता नगर के लोगों को सबी पर्वत पर पहुंचने से रोकने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ते हैं परंतु फिलिस्तीनी जवानों ने जायोनी सैनिकों द्वारा उत्पन्न की जाने वाली बाधाओं के बावजूद स्वयं को इस पर्वत पर पहुंचा दिया। ... हमें जो भी कीमत चुकानी पड़े हम इस पर्वत से एक इंच भी पीछे हटने के लिए तैयार नहीं हैं। यहां तक जिन चीज़ों को आपने अपनी आंखों से देखा उनका भी इन जवानों पर कोई प्रभाव नहीं है जैसे आंसू गैस के गोले, साउंड बम और धूंआं उत्पन्न करने वाले बम। ... जायोनी सैनिकों के हमले में कुछ पत्रकारों सहित बैता नगर में कई फिलिस्तीनी जवान घायल हो गये। फिलिस्तीनियों की जिन ज़मीनों पर कब्ज़ा कर लिया गया है उन तक फिलिस्तीनियों को पहुंचने से रोकने के परिप्रेक्ष्य में यह हमले जा रहे हैं। यह जवान बल देकर कहते हैं कि जायोनी सैनिक भी फिलिस्तीनी जनता व राष्ट्र को दबाने का प्रयास कर रहे हैं पर इसमें उन्हें मुंह की खानी पड़ेगी। .... हर गुरूवार हो हम सबी पर्वत पर जवानों की हत्या और उनके दमन के साक्षी हैं परंतु समस्त कठिनाइयों व समस्याओं के बावजूद फिलिस्तीनी जवान खुद को यहां पहुंचाते हैं .... जायोनी शासन फिलिस्तीनियों का दमन करता है ताकि फिलिस्तीनी जवान व लोग प्रतिरोध करने से पीछे हट जायें परंतु इन जवानों ने प्रतिरोधक की पताका हाथ में ले रखी है और वे किसी भी स्थिति में प्रतिरोध से पिछे हटने के लए तैयार नहीं हैं। MM

 

टैग्स