Dec ०६, २०२१ ०९:०६ Asia/Kolkata
  • परमाणु मामला ईरान के हाथ में है, तेहरान के ख़िलाफ़ खोखली धमकी इस्राईल की कमज़ोरी का कारण बन रही हैः इस्राईल के पूर्व प्रधानमंत्री

इस्राईल के पूर्व प्रधानमंत्री ने ईरान और अमेरिका के संबंध में ज़ायोनी शासन के वर्तमान प्रधानमंत्री की नीतियों और क्रिया-कलापों की आलोचना की है।

एहूद बाराक ने समाचार पत्र यदीऊत अहारूनूत के एक लेख में दावा किया है कि ईरान परमाणु हथियार बना लेने से कुछ ही महीनों दूर है और नफ्ताली बेनेट केवल ईरान के खिलाफ डींग मारते हैं।

एहूद बाराक ने कहा कि इस्राईल को बदतरीन स्थिति में बेहतरीन चयन करना चाहिये और ईरान को परमाणु शक्ति में परिवर्तित होने से रोकने के लिए अमेरिका और दुनिया की बड़ी शक्तियों के मध्य सहयोग ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि ईरान के खिलाफ खोखली धमकी से कुछ नहीं होगा और वह केवल इस्राईल की अधिक कमज़ोरी का कारण बन रही है और साथ ही अपनी रक्षा में इस्राईल की शक्ति व क्षमता कम से कर रही है।

अभी हाल में ही एहूद बाराक ने इस बात का रहस्योद्घाटन किया और कहा था कि इस्राईली अधिकारी ईरान को जो धमकी देते हैं उसकी अस्ल वजह तेहरान के परमाणु कार्यक्रम को आघात पहुंचाने के बजाये अमेरिका को डराना होता है। इसी प्रकार उन्होंने कहा था कि इस्राईल 10 साल पहले इस परिणाम पर पहुंच गया था कि ईरान के परमाणु प्रतिष्ठानों पर हमले के लिए सैनिक तैयारी हेतु बजट विशेष करना मात्र अरबों डालर की बर्बादी है। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

 

टैग्स