Jan ०९, २०२२ १३:४० Asia/Kolkata

अतिग्रहणकारी अमरीकी सैनिकों द्वारा समर्थित सीरियन डेमोक्रेटिक फ़ोर्स बच्चों और युवाओं के विरुद्ध अपनी कार्यवाहियों का सिलसिला जारी रखे हुए है।

एसडीएफ़ के तत्वों ने क़ामेश्ली की 16 वर्षीय बच्ची समा किद्दू का अपहरण कर लिया और 20 दिन गुज़रने के बाद भी उसका कुछ अता पता नहीं है, समा के परिजनों ने बच्चों के अधिकारों के बारे में काम करने वाली अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं से इस मामले में मदद करने की अपील की है।

समा का मां का कहना है कि हमारे बच्चों विशेषकर सारी मानवता के ख़िलाफ़ इन अत्याचारों को तुरंत रोकना चाहिए, हम बच्चों के अधिकारों पर काम करने वाली सारी अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं और रेड क्रिसेंट से अपील करते हैं कि इस मामले में हमारी मदद करें।

यूरोप और भूमध्य सागर क्षेत्र में सक्रिय मानवाधिकार संस्था की रिपोर्ट के आधार पर जिसका मुख्यालय जेनेवा में है, अमरीका समर्थित एसडीएफ़ ने अपने नियंत्रण वाले क्षेत्रों में अपहरणों और गिरफ़्तारियों का सिलसिला तेज़ कर दिया है और उसने हाल ही में गावों, शहरों और क़स्बों से 200 से अधिक बच्चों को उठाया है और उन्हें अपने कैंपों में रख रखा है... समा के पिता का कहना है कि शांति सबसे अहम बात है, मैं रेड क्रिसेंट, रेड क्रास और अन्य अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं से अपील करता हूं कि मेरी बेटी बीमार है और उसकी उम्र केवल 16 साल है, वह 2016 से बीमार है।

यह एसी हालत में है कि क्षेत्रीय लोगों की आवाज़ कहीं पहुंच भी नहीं पाती क्योंकि एसडीएफ़ के तत्व हर प्रदर्शन को कुचल देते हैं और उसका दमन करते हैं ताकि अपनी कार्यवाहियों पर पर्दा डाल सकें।

बच्चों और नौजवों की अत्याचारपूर्ण गिरफ़्तारी से पता चलता है कि यह गुट अपने वचनों का उल्लंघन कर रहा है और विश्व समुदाय इस संबंध में पूरी तरह चुप्पी साधे है।

 

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स