Jan २२, २०२२ १८:५९ Asia/Kolkata
  • यमनी जनता की हत्या में लंदन शामिलः गार्डियन

एक ब्रितानी समाचार पत्र गार्डियन ने इस देश की सरकार को मिलने वाले हालिया अपमानों की ओर संकेत करते हुए लिखा है कि सऊदी अरब को हथियार बेचने के कारण ब्रिटेन भी यमनी जनता की हत्या के अपराध में शामिल है।

इस समाचार पत्र ने लिखा है कि अगर न्यायपूर्ण ढंग से काम लिया जाये तो बोरिस जॉनसन की सरकार गिर सकती है क्योंकि वह यमनियों के खिलाफ अपराध में रियाज़ सरकार की भागीदार है।

इसी प्रकार समाचार पत्र गार्डियन ने लिखा है कि इस सप्ताह सऊदी अरब और उसके घटकों के हवाई हमलों में दसियों आम नागरिक मारे गये, पिछले महीने यमन में जारी लड़ाइयों के परिणाम में लगभग 32 आम नागरिक मारे गये, 2015 से यमन को युद्ध का सामना रहा है।

इसी प्रकार सामाचार पत्र गार्डियन ने लिखा है कि इन वर्षों में सऊदी अरब की अगुवाई वाले गठबंधन ने गरीब देश यमन पर उन हथियारों से बमबारी की है जिन्हें ब्रिटेन ने दिया है। सऊदी अरब की तानाशाही से हमारा सैन्य गठबंधन है और सीधे रूप से हमारी सरकार इन अपराधों में शामिल हैं।

समाचार पत्र गार्डियन ने लिखा है कि अगर यमन में मानवीय संकट दुनिया का बदतरीन संकट नहीं है तो इस कारण नहीं है कि वहां की हृदयविदारक स्थिति ठीक हो गयी है बल्कि उसकी वजह यह है कि विश्व जनमत का ध्यान अफगान संकट की ओर हो गया है।

पिछले सप्ताह संयुक्त राष्ट्रसंघ ने चेतावनी दी थी कि दसियों लाख यमनी अकाल से एक कदम दूर रह गये हैं क्योंकि इस देश की आर्थिक स्थिति बहुत विषम व जर्जर हो चुकी है।

इसी प्रकार ब्रितानी समाचार पत्र गार्डियन ने लिखा है कि इतना सब होने के बावजूद हमारी सरकार सऊदी अरब के साथ अपने संबंधों को सुरक्षित रख रही है और अमेरिका की पूर्व विदेशमंत्री हिलैरी क्लिंटन के अनुसार गोपनीय ढंग से आतंकवादियों का समर्थन किया जा रहा है।

ज्ञात रहे कि वर्ष 2015 से अब तक ब्रिटेन सऊदी अरब को 17.6 अरब डॉलर का हथियार बेच चुका है और उसके 6700 कर्मचारी सऊदी अरब में हैं। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजि

 

टैग्स