Jan २६, २०२२ १७:३३ Asia/Kolkata

....तुर्की का एक करोड़ साठ लाख की आबादी वाला महानगर इस्तांबूल भारी हिमपात की चपेट में है।....एक हफ़्ते से भारी बर्फ़बारी ने पूरे तुर्की को कठिनाई में डाल रखा है लेकिन राजधानी अंकारा और इस्तांबूल में इससे बड़ी पेचीदा समस्याएं खड़ी हो गई हैं।

.... स्थानीय नागरिक का कहना है कि गलियों और सड़कों पर चलना बहुत कठिन हो गया है। ..की नेमत से हम बहुत ख़ुश हैं लेकिन कठिन समय से गुज़र रहे हैं। इस्तांबूल के नए एयरपोर्ट की सारी उड़ानें पिछले 48 घंटे से बंद पड़ी हैं और यात्री एयरपोर्ट पर परेशान हैं।....ईरान के फुटबाल खिलाड़ी महदी तारुमी भी इस्तांबुल पहुंचने वाले थे लेकिन नहीं पहुंच सके।....इस्तांबूल के लोग घंटों सड़कों पर फंसे रहे। शहर में आम जनजीवन सामान्य डगर पर नहीं लौट सका है। पूर्वी और केन्द्रीय भागों में तापमान 10 से 30 डिग्री माइनस तक गिर गया है। लोग बर्फ़बारी की नेमत से ख़ुश हैं लेकिन इस साल की ठंड बड़ी कठिन हो गई है ।.... स्थानीय नागरिक का कहना है कि ..का शुक्र बहुत बर्फ़बारी हुई लेकिन कारोबार ठप्प हो गया है और जीवन कठिन हो गया है। तुर्की के दक्षिणी इलाक़ों में भी जो गर्म इलाक़े हैं बर्फ़बारी हुई है। दक्षिणी तुर्की के दियार बक्र जैसे शहर तो पिछले पचास साल से हिमपात नहीं देख सके थे। मौसम विभाग के विशेषज्ञों का कहना है कि अगला पूरा हफ़्ता पूर्वी से पश्चिमी तुर्की तक हिमपात होगा और कड़ाके की ठंड पड़ेगी। यहां तक कि ईरान के भी कुछ इलाक़ों में जो तुर्की से क़रीब हैं ठंड़ बढ़ेगी।  अंकारा से आईआरआईबी के लिए हमीद कामेली की रिपोर्ट

 

टैग्स