May २७, २०२२ २०:१० Asia/Kolkata
  • फ़िलिस्तीनियों ने इस्राईल को खुली वार्निंग दे दी, इस्राईल में खलबली

फ़िलिस्तीन के इस्लामी प्रतिरोध संगठनों ने फ़्लैग मार्च के रूप में ज़ायोनीयों के मस्जिदुल अक़सा में प्रवेश की ओर से इस्राईली सरकार को सचेत किया है।

इस्राईली बस्तियों के निवासी हर साल फ़्लैग मार्च निकालते हैं और इसका मक़सद अवैध अधिकृत बैतुल मुक़द्दस के प्राचीन क्षेत्रों पर उनके अवैध क़ब्ज़े की याद को ताज़ा करना है।

ज़ायोनियों का दावा है कि बैतुल मुक़द्दस पूरी तरह से अवैध ज़ायोनी शासन की राजधानी है जबकि फ़िलिस्तीनी जनता का कहना है कि बैतुल मुक़द्दस फ़िलिस्तीन की राजधानी थी और हमेशा रहेगी।

सौतुल क़ुद्स नामक रेडियो की रिपोर्ट के अनुसार फ़िलिस्तीनी संगठनों ने गुरुवार की रात एक आपातकालीन बैठक बुलाई थी जिसमें बैतुल मुक़द्दस की ताज़ा स्थिति की समीक्षा की गयी।

बैठक के बाद एक बयान जारी करके फ़िलिस्तीनी संगठनों ने बैतुल मुक़द्दस, वेस्ट बैंक और अन्य अधिकृत क्षेत्रों में रहने वाले फ़िलिस्तीनियों से अपील की कि वह शुक्रवार को मस्जिदु अक़सा की रक्षा के लिए प्रांगड़ में एकत्रित हो।

इसके साथ ही इस्राईल को हर प्रकार की मूर्खता या भड़काऊ कार्यवाही की बाबत सचेत किया गया है और कहा गया है कि फ़्लैग रैली के नाम पर अगर ज़ायोनी बस्तियों के निवासी मस्जिदुल अकसा में दाख़िल होते हैं तो यह बारूद से खेलने के समान होगा जिसके शोले पूरे क्षेत्र को अपनी चपेट में ले लेंगे। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स