Jun २५, २०२२ २०:५३ Asia/Kolkata
  • इस्राईली सैनिकों ने ही की थी फ़िलिस्तीनी महिला पत्रकार की हत्याः राष्ट्रसंघ

राष्ट्रसंघ ने यह बात मानी है कि अल्जज़ीरा की फ़िलिस्तीनी महिला पत्रकार की हत्या इस्राईली सैनिकों ने ही की थी।

संयुक्त राष्ट्रसंघ की जांच रिपोर्ट में यह बात साफ हो गई है कि अल्जज़ीरा टीवी चैनेल की फिलिस्तीनी मूल की महिला पत्रकार अबू आक़ेला की हत्या इस्राईली सैनिकों ने की थी।

एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार रिपोर्टिंग के समय फ़िलिस्तीनी मूल की पत्रकार अबू आक़ेला ने पत्रकारों वाली जैकेट पहन रखी थी जिसपर "प्रेस" लिखा हुआ था।

राष्ट्र संघ के मानवाधिकार कार्यालय की प्रवक्ता ने जनेवा में संवाददाता सम्मेलन में बताया कि हम इसी परिणाम पर पहुंचे हैं कि इस्राईली सैनिकों की ओर से चलाई जाने वाली गोली से ही अल्जज़ीरा टीवी चैनेल की फिलिस्तीनी मूल की महिला पत्रकार अबू आक़ेला की मौत हुई।  उन्होंने कहा कि यह बड़े खेद की बात है कि इस्राईली अधिकारियों ने पत्रकार की हत्या के मामले की जांच नहीं होने दी।

राष्टसंघ की इस अधिकारी ने यह भी बताया कि आरंभ में इस्राईली अधिकारी यह दावा कर रहे थे कि शीरीन अबू आक़ेला की मौत, सशस्त्र फ़िलिस्तीनियों की फाएरिंग से हुई।  जबकि हुआ इसके बिल्कुल विपरीत।  उनका कहना था कि अभी तक हमे इस बाते के कोई भी सुबूत नहीं मिले हैं जो यह बताते हों कि जिस जगह से शीरीन अबू आक़ेला रिपोर्टिंग कर रही थीं वहा पर सशस्त्र फ़िलिस्तीनी मौजूद थे।

संयुक्त राष्ट्रसंघ के मानवाधिकार कार्यालय ने इस्राईल पर ज़ोर दिया है कि वह हत्या की इस घटना की जांच करवाए।

याद रहे कि  11 मई को जेनीन नगर में रिपोर्टिंग के दौरान गोली लगने से अल्जज़ीरा टीवी चैनेल की फिलिस्तीनी मूल की महिला पत्रकार अबू आक़ेला की मौत हो गई थी।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स