Sep २७, २०२२ १७:३६ Asia/Kolkata
  • कुवैत और क़तर ने की मस्जिदुल अक़सा पर ज़ायोनियों के हमले की कड़ी निंदा

कुवैत और क़तर ने मस्जिदुल अक़सा पर ज़ायोनियों और इस्राईली सैनिकों के हमले की कड़ी निंदा की है।

मंगलवार की सुबह लगातार दूसरे दिन ज़ायोनियों के एक गुट ने यहूदी नव वर्ष के जश्न के बहाने मस्जिदुल अक़सा पर धावा बोल दिया। ज़ायोनी नागरिकों को इस्राईली सैनिकों का समर्थन प्राप्त था।

अल-ख़लीज ऑनलाइन वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक़, कुवैत के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करके कहा है कि मस्जिदुल अक़सा पर ज़ायोनियों का धावा, पवित्र स्थिलों की पवित्रता के उल्लंघन के साथ ही संयुक्त राष्ट्र संघ के प्रस्तावों और जेनेवा कन्वेंशन का खुला उल्लंघन है।

कुवैती विदेश मंत्रालय ने विश्व समुदाय और विशेष रूप से सुरक्षा परिषद से मस्जिदुल अक़सा पर आए दिन हमलों के ख़िलाफ़ कोई गंभीर क़दम उठाने की मांग की है।

क़तर के विदेश मंत्रालय ने भी मस्जिदुल अक़सा पर ज़ायोनी नागरिकों के हमले हमले की निंदा करते हुए इसे उकसावे की कार्यवाही बताया, जिससे दुनिया भर के करोड़ों मुसलमानों की भावनाएं आहत हुई हैं।

क़तर के विदेश मंत्रालय ने ज़ायोनी शासन को चेतावनी देते हुए कहा है कि वह इस तरह की भड़काऊ कार्यवाहियों पर रोक लगाए।

हालिया दिनों में मस्जिदुल अक़सा पर ज़ायोनी नागरिकों और इस्राईली सैनिकों ने कई बार धावा बोला है, जिसके ख़िलाफ़ फ़िलिस्तीनी नागरिकों ने कड़ा प्रतिरोध जताया है। msm

टैग्स