Oct ०७, २०२२ ०८:५५ Asia/Kolkata

पवित्र नगर कर्बला में हज़रत इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के रौज़े में रीढ़ की हड्डी के एक मरीज़ को शिफ़ा मिल गयी।

पिछले दिनों हज़रत इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के रौज़े में रीढ़ की हड्डी के मोहरे के टूटने का शिकार एक मरीज़ स्वस्थ्य हो गया जिसके इलाज से डाक्टर निराश हो गये थे।

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार पिछले दिनों एक इराक़ के श्रद्धालु को हज़रत इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के रौज़े में बीमारी से छुटकारा मिल गया।

रिपोर्ट में बताया गया है कि इस नौजवान की रीढ़ की हड्डे के मोहरे टूट चुके थे और वह चल नहीं सकता था, डाक्टर उसके इलाज से पूरी तरह निराश हो चुके थे लेकिन हज़रत इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के रौज़े से इस मरीज़ को शिफ़ा मिल गयी।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि यह नौजवान व्हील चेयर पर बैठा हुआ था और अचानक ही अपने पैरों पर खड़ा होकर चलने लगा।

वीडियो में देखा जा सकता है कि जैसे ही उक्त नौजवान को शिफ़ा मिली वहां खड़े लोग सलवात पढ़ने लगे और उक्त नौजवान को बैनुल हरमैन तक ले गये और उसके बाद इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के रौज़े के क़रीब बैठ कर सब ने ज़ियारते आशूरा पढ़ी।

इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के रौज़े के अधिकारियों ने गहन जांच पड़ताल के बाद इस मरीज़ के ठीक होने की पुष्टि की। (AK)

 

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए 

फेसबुक पर हमारे पेज को लाइक करें

टैग्स