Nov १२, २०१९ १३:२३ Asia/Kolkata
  • अमरीका को मुक़्तदा सद्र की चेतावनी, बंद करो हस्तक्षेप वरना इराक़ से निकाल कर दम लेंगे!!!

इराक़ के वरिष्ठ धार्मिक व राजनैतिक नेतृत्व ने इस देश में अमरीकी हस्तक्षेप की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए जनता की क़ानूनी मांगें पूरी होने पर बल दिया है।

फ़ार्स न्यूज़ के मुताबिक़, सोमवार को इराक़ के वरिष्ठ धर्मगुरु आयतुल्लाह सीस्तानी के कार्यालय से एक बयान जारी हुआ जिसमें इराक़ के भीतरी मामलों में विदेशी हस्तक्षेप को कड़ाई से रद्द किया गया और कहा गया कि विश्व साम्राज्य को इराक़ के माजूदा हालात का दुरुपयोग न करने दिया जाए।

इसके साथ इस बयान में आया है कि इराक़ का धार्मिक तंत्र शांतिपूर्ण प्रदर्शनों में भाग लेने वालों को सज़ा को, क़ानून और शरीआ के ख़िलाफ़ समझता है। बयान में बल दिया गया है कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने वालों को न तो गिरफ़्तार किया जाए और न हीं उन्हें सज़ा दी जाए।

दूसरी ओर इराक़ की सद्र पार्टी के प्रमुख मुक़्तदा सद्र ने भी एक बयान में इस देश में अमरीकी हस्तक्षेप की कड़ाई से निंदा करते हुए कहा कि सद्दाम के शासन के अंत के बाद अमरीका ने ही एक भ्रष्ट अल्पसंख्यक को इराक़ी जनता पर थोपा।

उन्होंने अमरीकी सरकार को संबोधित करते हुए कहा कि इराक़ में तुम्हारा हस्तक्षेप बहुत हो चुका, हमारे देश में ऐसे महान लोग मौजूद हैं जिनके होते हुए तुम्हारी या किसी और के हस्तक्षेप की कोई जगह नहीं है।
मुक़्तदा सद्र ने अमरीकी सरकार को संबोधित करते हुए कहा कि अगर तुम्हारे हस्तक्षेप का क्रम इराक़ में जारी रहा तो इस देश से तुम्हें निकाल कर दम लेंगे।

ग़ौरतलब है कि इराक़ में बुरे आर्थिक हालात, बेरोज़गारी और भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ इराक़ के शहरों में प्रदर्शन हुए, मगर विदेशी ताक़तों ख़ास तौर पर अमरीका ने इन हालात से फ़ायदा उठाते हुए प्रदर्शन को अपने फ़ायदे में इस्तेमाल करने कोशिश की और उनके हस्तक्षेप की वजह से प्रदर्शन हिंसक हो गए। (MAQ/N)

टैग्स

कमेंट्स