Dec ०७, २०१९ ०८:१० Asia/Kolkata
  • इराक़ से बड़ी खबर, प्रदर्शनकारियों पर अज्ञात बंदूकधारियों का हमला , दसियों हताहत,

इराक़ की राजधानी बगदाद में प्रदर्शनकारियों पर अज्ञात लोगों के हमले में 18 लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि इराक़ी गृहमंत्रालय ने मारे जाने वालों की संख्या चार बताया है।

इराक़ी गृहमंत्रालय के बयान के अनुसार बगदाद के असन्नक स्क्वयार पर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर अज्ञात सशस्त्र लोगों न फायरिंग की जिससे 4 लोग मारे गये और 80 घायल हुए हैं। 

इस अवसर पर होने वाली झड़प में इराक़ी स्वंय सेवी बल हश्दुश्शाबी के कैमरा मैन " अहमद अलमेहनी " की भी मौत हो गयी है। 

खबरों में बताया गया है कि कारों में बैठ कर कुछ सशस्त्र हमलवारों ने प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग कर दी। 

बगदाद के सैन्य कमान के प्रमुख ने कहा है कि सेना प्रदर्शनकारियों को सुरक्षा प्रदान कर रही है लेकिन प्रदर्शनकारी भी सेना के साथ सहयोग करें और अपने मध्य सशस्त्र लोगों को घुसने न दें। 

इराक़ में सद्र धड़े के प्रमुख मुक़तदा सद्र ने इराकी प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा के लिए शुक्रवार की रात, अपनी ब्रिगेड के जवानों को बिना हथियार के बगदाद के अत्तहरीर स्कवायर भेजा है। 

इसी मध्य इराक़ में असाएब अहलिल हक़ के प्रमुख कैस खज़अली ने ट्वीट किया है कि प्रदर्शनों के दौरान सशस्त्र झड़प अस्वीकारीय है और सभी हथियारबंद लोगों को पीछे हटना होगा। 

इसी मध्य इराक़ के वरिष्ठ धर्मगुरु आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली सीस्तानी के प्रतिनिधि ने कहा है कि वरिष्ठ धर्मगुरु के नाम का दुरुपयोग न किया जाए और इराक़ में हालात सामान्य होने चाहिए। 

उन्होंने कहा कि प्रदर्शनों को तोड़ फोड़ और हिंसा से दूर रखना सब की ज़िम्मेदारी है। 

इराक़ में प्रदर्शनों का पहला चरण पहली अक्तूबर को आंरभ हुआ। इराक़ी प्रदर्शनकारी भ्रष्टाचार के अंत और बेहतर जीवन के इच्छुक हैं। 

प्रदर्शनों का दूसरा चरण 25 अक्तूबर से आरंभ हो और प्रदर्शनकारियों की अधिकांश मांगे पूरी हो जाने के बावजूद जारी है। (Q.A.)

टैग्स

कमेंट्स