Dec १०, २०१९ ००:११ Asia/Kolkata
  • इराक़, स्वयं सेवी बलों की खुली धमकी, अमरीका, इस्राईल, सऊदी अरब और यूएई से बदला लिया जाएगा

इराक़ के अन्नोजबा आंदोलन की राजनैतिक परिषद ने घोषणा की है कि बग़दाद के अलख़लानी स्क्वायर पर होने वाली फ़ायरिंग अमरीकी दूतावास की योजना से अंजाम पायी है जिसका लक्ष्य इराक़ के स्वयं सेवी बल हश्दुश्शाबी को सशस्त्र झड़पों में खींचना था।

उधर असाएब अहले हक़ आंदोलन के महासचिव ख़ज़अली ने इराक़ के हालिया प्रदर्शनों में कई लोगों के मारे जाने की ओर संकेत करते हुए कहा कि इराक़ी नागरिकों के जनसंहार में अमरीका और इस्राईल का हाथ है।

उन्होंने कहा कि शीघ्र ही अमरीका, इस्राईल और उसके बाद संयुक्त अरब इमारात और सऊदी अरब से बदला लिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यह बात किसी से ढकी छिपी नहीं है कि कुछ गुट अमरीका, इस्राईल, सऊदी अरब और संयुक्त अरब इमारात के समर्थन से इराक़ को तबाह और बर्बाद करने पर लगे हुए हैं।

उन्होंने साथ यह भी कहा कि इराक़ के धार्मिक नेतृत्व ने भी इराक़ के मामले में कुछ देशों के हस्तक्षेप की बाबत सचेत किया है।

असाएब अहले हक़ के प्रमुख क़ैस ख़ज़अली ने संयुक्त अरब इमारात और सऊदी अरब को इराक़ी जनता के जनसंहार और इराक़ के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप की बाबत सचेत किया है और कहा है कि इसके भीषण परिणाम भुगतने पड़ेंगे। (AK)

कमेंट्स