Jan २१, २०२० १५:५८ Asia/Kolkata
  • इस्राईल में बाढ़ में फंसें युद्धक विमान तो समाचार पत्र ने पूछा तीखा सवालः हम इस तरह से ईरान का मुक़ाबला करेंगे?

इस्राईल की हवाई छावनी हट्ज़ोर, बाढ़ की चपेट में है। बाढ़ ने इस छावनी में खड़े 8 एफ-16 युद्धक विमानों को नुक़सान पहुंचाया है और फिलहाल वह बेकार हो गये हैं। इस्राईली समाचार ने इस स्थिति की कड़ी आलोचना की है।

          इस्राईली समाचार पत्र हारित्ज़ लिखता हैः हम सब को मालूम है कि हिज़्बुल्लाह और ईरान के खिलाफ युद्ध, एक अटल सच्चाई है इस लिए जब भी हमारी किसी भी एयर बेस को इस तरह से नुक़सान पहुंचे तो हमें सजग होकर उस पर ध्यान देना चाहिए। इस्राईली चीफ आफ आर्मी स्टाफ ने पिछले महीने उत्तरी मोर्चे पर अपने भाषण में जनता को संभावित युद्ध के लिए तैयार करने की कोशिश की और उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि आने वाले युद्ध में हमें ऐसी चोट पहुंचेगी जिसका हमारे पास कोई अनुभव नहीं है।

     हारित्ज़ आगे लिखता हैः पिछले हफ्ते बाढ़ ने जिस तरह से हमारे युद्धक विमानों को तबाह किया है उससे पता चलता है कि इस्राईली अधिकारी, खतरों का मुक़ाबला करने के लिए तैयार नहीं है। भारी बारिश हुई तो " नाहारिया" में बाढ़ आ गयी, तेलअबीव में एक पति- पत्नी डूब गये और हट्ज़ोर एयर बेस में खड़े युद्धक विमानों को गंभीर रूप से नुक़सान पहुंचा।

     हारित्ज़ ने लिखा है कि बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र में सेना की जो युनिट राहत कार्य कर रही है वह यही युनिट है जो हिज़्बुल्लाह से लोहा लेने के लिए बनायी गयी है और इसी युनिट को युद्ध की दशा में हिज़्बुल्लाह के मिसाइलों और राकेटों का सामना करना पड़ेगा लेकिन संकट मय स्थिति में जिस से नागरिकों को भी इस युनिट की ज़रूरत पड़ गयी उसे देखते हुए युद्ध के समय क्या दशा होगी इसका अदांज़ा लगाया जा सकता है।   हारित्ज़ ने लिखा है कि पिछले दो महीनों से इस बात पर चर्चा हो रही है कि अगर मिसाइल हमला हुआ तो फायर ब्रिगेड विभाग कितना लाचार होगा।

     इस्राईल में बाढ़ से होने वाली तबाही और विभिन्न विभागों की अयोग्यता का उल्लेख करते हुए सवाल किया है कि इस तैयारी के साथ क्या हम ईरान के साथ युद्ध के लिए तैयार हैं? Q.A.

 

 

टैग्स

कमेंट्स