Jan २१, २०२० १७:४२ Asia/Kolkata
  • क्या यह मक्का व मदीना पर क़ब्ज़े की तैयारी है? एक बड़ी साज़िश का पर्दाफाश ...

सऊदी अरब के प्रसिद्ध सोशल मीडिया कार्यकर्ता ने मुसलमानों के लिए बेहद पवित्र स्थलों, मक्का और मदीना के लिए एक बड़ी साज़िश का पर्दाफाश किया है।

 

     " मुजतहिद" के नाम से लिखने और सऊदी अरब के शाही परिवार के रहस्य उजागर करने वाले इस कार्यकर्ता ने मिस्र की अब तक की सब से बड़ी सैन्य छावनी" बेरनीस" के निर्माण के पर एक बड़े रहस्य से पर्दा उठाया है।

मुजतहिद ने लिखा है कि यह छावनी, दर अस्ल, मक्का और मदीना पर क़ब्ज़े के लिए मिस्र और यूएई की एक संयुक्त योजना का हिस्सा है जो इस्राईल के इशारे पर तैयार की गयी है।

     मुजतिहद ने ट्वीट करके मिस्र की सब से बड़ी सैन्य छावनी " बेरनीस" के बारे में कई चौंकाने वाले तथ्य बयान किये हैं।

     उन्होंने लिखा है कि लाल सागर में कुछ दिनों पहले जिस बेरनीस छावनी का उद्धाटन हुआ है वह अस्सीसी और बिन ज़ायद की एक साज़िश का परिणाम है और उसका मक़सद, सऊदी अरब में बड़े संकट की दशा में मक्का और मदीना के पवित्र स्थलों पर क़ब्ज़ा है।

 

     मुजतहिद ने बताया है कि सऊदी अरब के निकट बनी इस छावनी में रेपिड एक्शन फोर्स तैनात की गयी है जो मक्का और मदीना के निकट स्थित , जद्दा और यंबा में तत्काल सैनिकों को भेजने की तैयारी रखे हैं।

     सऊदी अरब के इस कार्यकर्ता ने बताया है कि यह योजना, मिस्र में अस्सीसी के सत्ता में आने के बाद इस्राईल के सहयोग से तैयार की गयी थी और जब तुर्की  ने भी सूडान के द्वीपों में अपने सैनिक तैनात किये तो इस्राईल और यूएईए ने विद्रोह द्वारा सत्ता हथियाने वाले मिस्री राष्ट्रपति अस्सीसी का समर्थन बढ़ा दिया।

     मुजतहिद ने लिखा है कि सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस बिन सलमान को अस्ल बात का पता ही नहीं है इस लिए वह भी इस योजना में पूरी तरह से भागीदार हैं और यूएई के क्राउन प्रिंस बिन ज़ायद ने उन्हें इस बात पर तैयार कर लिया है कि तुर्की की सैन्य उपस्थिति के खिलाफ सैन्य रूप से पूरी तरह से अलर्ट रहना ज़रूरी है।

     मुजतहिद ने इस छावनी की पोज़ीशन बताते हुए एक नक्शा भी पोस्ट किया है।

     लाल सागर के तट मिस्र की बेरनीस छावनी का गत बुधवार को उद्धघाटन हुआ और उद्धाटन समारोह में अबू धाबी के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन ज़ायद और सऊदी अरब के उप रक्षा मंत्री खालिद बिन सलमान जैसे फार्स की खाड़ी के कई नेता उपस्थित थे।

     लाल सागर के तट पर और इस्राईल से निकट मिस्र की इतनी बड़ी छावनी के उद्धघाटन पर इस्राईल में फैली चिंता पर प्रतिक्रिया प्रकट करते हुए इस्राईल के चैनल नंबर -12 ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि लाल सागर के तट पर बेरनीस छावनी से इस्राईलियों को चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यह छावनी भविष्य में इस्राईल की सुरक्षा के काम आएगी। Q.A.

 

टैग्स

कमेंट्स