Feb १६, २०२० २०:२७ Asia/Kolkata
  • ट्रम्प ने हालिया दिनों में दो भयानक अपराध किए हैं, हसन नसरुल्लाह

अमरीका द्वारा ईरान की क़ुद्स फ़ोर्स के पूर्व कमांडर जनरल क़ासिम सुलेमानी की हत्या को 40 दिन पूरे होने के अवसर पर हिज़्बुल्लाह के प्रमुख सैय्यद हसन नसरुल्लाह ने कहा है कि आर्थिक घेराबंदी के बावजूद, जनता के समर्थन से ईरान हर मोर्चे पर डटा हुआ है।

नसरुल्लाह ने ईरान की इस्लामी क्रांति की 41वीं वर्षगांठ की ईरान के सुप्रीम लीडर को बधाई भी दी।

हिज़्बुल्लाह प्रमुख ने इस्राईल और अमरीका के ख़िलाफ़ लड़ते हुए जान देने वाले लेबनानी और ईरानी शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा, यह वह लोग थे जो अपनी ज़िम्मेदारियों को पूरा करने के लिए हमेशा अपनी जान हथेली पर रखकर प्रयास करते थे।

उन्होंने कहाः जब हम शहीद जनरल सुलेमानी की वसीयत पढ़ते हैं तो हमें अहसास होता है कि हम एक ऐसे योद्धा और कमांडर से रूबरू हैं, जो अपने दिल में देश और राष्ट्र का दर्द रखता है।

हसन नसरुल्लाह का यह भी कहना था कि आज जनरल सुलेमानी और अबू मेहदी अल-मोहंदिस की शहादत ने पूरे क्षेत्र में प्रतिरोध को एक नए और बहुत ही महत्वपूर्ण चरण में दाख़िल कर दिया है।

उन्होंने कहाः ट्रम्प ने हमारे क्षेत्र में दो अपराध किए हैं। अमरीकी राष्ट्रपति का पहला अपराध, जनरल सुलेमानी और अबू मेहदी अल-मोहंदिस की हत्या करना है और दूसरा अपराध डील ऑफ़ द सेंचरी है।

अमरीकी सरकारों ने पहले भी इस तरह की कई योजनाएं पेश की हैं, लेकिन सभी योजनाएं विफल रही हैं। इसका कारण लोगों की जागरुकता है और दुश्मन से टकराने का साहस। एक भी फ़िलिस्तीनी गुट या संगठन ऐसा नहीं है, जो फ़िलिस्तीन और बैतुल मुक़द्दस को भूल जाना चाहता हो। msm

टैग्स

कमेंट्स